अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से युवराज सिंह ने लिया संन्यास, बोले मैंने कभी हार नहीं मानी

मुंबई:  धुरंधर क्रिकेटर युवराज सिंह ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। युवराज 2011 विश्व कप के हीरो रहे थे। संन्यास की घोषणा करते हुए युवराज सिंह ने कहा मैंने जिंदगी में कभी हार नहीं मानी। युवराज ने मुंबई में प्रेस कांफ्रेंस कर संन्यास की घोषणा की। युवराज ने अपना आखिरी मैच वेस्टइंडीज के खिलाफ 30 जून 2017 में खेला था।

युवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्ट, 308 वनडे और 58 टी-20 मैच खेल चुके हैं। टेस्ट में 33.92 की औसर से युवराज सिंह ने 1900 रन बनाए हैं। जबकि वनडे फॉर्मेट में युवराज ने 8701 रन बनाए हैं। टी-20 में युवराज ने 1177 रन बनाए हैं।

युवराज को 2011 के वर्ल्ड कप में मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया था। आईपीएल में युवराज सिंह किंग्स एलेवन पंजाब , पुणे वॉरियर्स, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और दिल्ली डेयरडेविल्स, सनराइजर्स हैदराबाद और मुंबई इंडियंस से खेल चुके हैं।

2007 के टी-20 वर्ल्ड कप में युवराज ने इंग्लैंड के खिलाफ 6 गेंदों पर लगातार 6 छक्का मारने का विश्व रिकॉर्ड बनाया था। उनके नाम टी-20 में 12 गेंदों में अर्धशतक बनाने का विश्व रिकॉर्ड भी है। युवराज ने अपना पहले अंतरराष्ट्रीय मैच 30 अक्टूबर 2000 में केन्या के खिलाफ खेला था।

(Visited 18 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *