yoga not communal says UP chief minister yogi adityanath

लखनऊ में बोले योगी ‘योग सांप्रदायिक नहीं, सूर्य नमस्कार और नमाज में काफी समानता’

लखनऊ में बोले योगी ‘योग सांप्रदायिक नहीं, सूर्य नमस्कार और नमाज में काफी समानता’

लखनऊ: योग महोत्सव में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा लोग साधू संतों को भीख भी नहीं देते हैं लेकिन मुझे पीएम और जनता ने पूरा यूपी सौंप दिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने मुझे अचानक सीएम बनने के लिए कहा। जिस वक्त मुझे सीएम बनने के लिए कहा गया था तब मेरे पास एक जोड़ी कपड़े थे।

योगी ने आगे कहा मैं यूपी में गली गली घूमा हूं। यूपी की हर बीमारी जानता हूं। कौन सी बीमारी का इलाज कहां से होगा इसके बारे में भी मुझे पता है। सीएम ने एक बार फिर संकेत दिये कि उनपर दबाव की राजनीति काम नहीं करेगी। राज्य के हित में जो सही होगा वही फैसला लिया जाएगा। सीएम ने एकबार फिर कहा कि राज्य हित में अगर बड़े फैसले लेने में हिचकुंगा नहीं।

ये भी पढें :

– संसद में GST पर चर्चा, कांग्रेस बोली बीजेपी ने 6 साल में 10 लाख करोड़ का नुकसान कराया

सीएम ने योग पर भी बड़ी बात कह दी। सीएम ने कहा कि 2014 से पहले योग को धर्म की नजर से देखा जाता था। तब योग को सांप्रदायिक माना जाता था। हम सबको तय करना होगा कि वास्तव में सांप्रदायिक कौन है। पीएम ने पूरी दुनिया में योग को फैलाया।

उन्होंने कहा कुछ लोगों को योग में नहीं भोग में विश्वास है। ये वही लोग हैं, जिन्होंने समाज को तोड़ा है और जाति धर्म के आधार पर बांटा है। सीएम ने कहा अगर नमाज और सूर्य नमस्कार को देखेंगे तो दोनों की मुद्राएं काफी मिलती जुलती हैं। इनमें काफी समानताएं हैं। योग से किसी का धर्म भ्रष्ट नहीं होता है।

Loading...

Leave a Reply