12 शेर सामने खड़े थे उसी वक्त महिला ने बच्चे को दिया जन्म

12 शेर सामने खड़े थे उसी वक्त महिला ने बच्चे को दिया जन्म

नई दिल्ली:  शेर का नाम सुनकर अच्छे अच्छों की हालत खराब हो जाती है। और अगर सामने 12 खूंखार शेर खड़े हों तो सोच सकते हैं किसी इंसान की क्या हालत होगी। लेकिन गुजरात में एक ऐसी घटना हुई है जिसमें प्रसव पीड़ा से तड़पती महिला ने इन्हीं 12 शेरों के सामने बच्चे को जन्म दिया। ये घटना गुजरात में अमरेली के जाफराबाद तालुका में लुंसापुर गांव की है।

इस गांव में महिला को जब प्रसव पीड़ा शुरु हुआ तो घरवालों ने 108 नंबर पर एंबलेस सेवा को फोन किया। एंबुलेंस आ भी गई। जिसके बाद महिला को एंबुलेंस में लेकर गांव से अस्पताल की तरफ निकला। लेकिन बीच रास्ते में एंबलेंस का आगे बढ़ना मुश्किल हो गया। क्योंकि सामने सड़क पर शेरों ने अपना डेरा जमाया हुआ था। वो भी एक दो नहीं बल्कि 12 शेर सड़क पर ही बैठे थे। कुछ उनमें से खड़ भी थे।

एंबुलेंस के ड्राइवर ने किसी तरह वहां से निकलने की कोशिश की लेकिन शेर नहीं हटे। इस बीच एंबुलेंस में सवार महिला का प्रसव पीड़ा भी बढ़ने लगा और उसे रक्त स्त्राव भी शुरु हो गया। अब देरी होने पर महिला की जान को खतरा हो सकता था। इसलिए अब एंबुलेंस स्टाफ ने गाड़ी के भीतर ही महिला की डिलीवरी कराने का फैसला किया। स्टाफ ने डॉक्टर से फोन पर संपर्क किया और निर्देश के मुताबिक महिला की डिलीवरी कराने लगा। तकरीबन 30 मिनट बाद महिला ने बच्चे को जन्म दिया।

डिलीवरी के बाद शेर भी सड़क से थोड़े बगल हट गए थे। जिसके बाद ड्राइवर वहां से धीरे धीरे एंबुलेंस लेकर आगे बढ़ा। महिला और बच्चे को जाफराबाद के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया। हलांकि ये पहला मामला नहीं था। इस इलाके में अकसर शेरों से इनका सामना होता रहता है।

Loading...

Leave a Reply