इसलिए बीजेपी ने उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी नहीं की!




नई दिल्ली: गठबंधन में शामिल छोटे दल कई बार मुश्किल भी खड़ी कर देते हैं। यूपी में बीजेपी के साथ भी वही मुश्किल खड़ी हो गई है। नतीजा ये हुआ कि पार्टी उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट जारी नहीं कर पा रही है। क्योंकि गठबंधन में शामिल अपना दल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ सीटों को लेकर सहमति नहीं बन पाई है।

सूत्रों के मुताबिक पीएम मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गुरुवार रात को 150 उम्मीदवारों की लिस्ट फाइनल कर ली थी। जिसे शुक्रवार को जारी किया जाना था। लेकिन सीटों के बंटवारे पर अपने दोनों सहयोगी दलों के रुख की वजह से पार्टी दूसरी लिस्ट जारी नहीं कर सकी। दोनों पार्टियां 30 -30 सीटों की मांग कर रही हैं। यही वजह है कि बीजेपी अबतक 149 उम्मीदवारों की लिस्ट ही जारी कर सकी है।

अपना दल की अनुप्रिया पटेल और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के ओम प्रकाश राजभर इन दिनों दिल्ली में हैं। पूर्वी यूपी में बीजेपी की रैला की कामयाब बनाने के लिए राजभर की अहम भूमिका रही। मऊ में हुई रैली में राजभर ने अमित शाह के साथ मंच भी साझा किया था। अपना दल की अनुप्रिया पटेल का कुर्मी वोटबैंक पर खासा असर है। वाराणसी-प्रतापगढ़ इलाके में 5-6 जिलों में अनुप्रिया पटेल की अच्छी पकड़ है। वहीं राजभर समुदाय का पूर्वी यूपी के 7-8 जिलों में काफी असर है।

दोनों ही सहयोगी पार्टियां 30-30 सीट मांग रही हैं लेकिन बीजेपी इन्हें 3-4 सीट से ज्यादा देने के मूड में नहीं है। डिमांड और पूर्ति के बीच की इस बड़ी खाई की वजह से ही बीजेपी उम्मीदवारों की अगली लिस्ट अटकी हुई है। खबर ये भी है कि राजभर ने समाजवादी पार्टी और बीएसपी से भी बातचीत की है। लेकिन बीएसपी के साथ मिलने की उम्मीद ना के बराबर है। क्योंकि बीएसपी पहले ही सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार उतार चुकी है। माना ये भी जा रहा है कि हो सकता है समाजवादी पार्टी के साथ करीबी बढ़ाकर बीजेपी पर दबाव बनाया जा रहा हो।

Loading...

Leave a Reply