पाकिस्तान में पीएम नवाज शरीफ हैं या आतंकी हाफिज सईद है?

दिल्ली: पाकिस्तान से जिस तरह के भारत विरोधी बातें सामने आ रही हैं और उसके पीछे जिस तरह से आतंकी संगठन के सरगना शामिल होते हैं उसके बाद मन में ये सवाल भी उठता है कि पाकिस्ता के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ हैं या आतंकी हाफिज सईद है? पाकिस्तान में हुकूमत पीएमएल (N) की है या जमात-उद-दावा की ?

जमात-उद-दावा प्रमुख, 26/11 मुंबई हमले का मास्टरमाइंड और मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद ने पाकिस्तानी सरकार से कहा है कि 3 अगस्त को सार्क सम्मेलन में आ रहे भारत के गृह मंत्री राजनाथ सिंह को पाकिस्तान नहीं आने दिया जाए। जबतक भारत सरकार पाकिस्तान को कश्मीरियों की मदद की इजाजत नहीं देती तबतक राजनाथ सिंह को पाकिस्तान नहीं आने देना चाहिए। यही नहीं पाकिस्तान की विदेश नीति पर आतंकी हाफिज सईद ने अपना फैसला सुनाया है। हाफिज ने कहा है कि पाकिस्तान को भारत के साथ सारे व्यापारिक रिश्ते बंद कर देने चाहिए। हाफिज ने कहा जबतक कश्मीर समस्या का हल नहीं हो जाता है तबतक पाकिस्तान भारत के साथ कोई व्यपार नहीं करे। एक और बात कही आतंकी संगठन के प्रमुख हाफिज सईद ने। हाफिज ने कहा कि पाकिस्तान सरकार को भारत में आलू प्याज भेजना बंद कर देना चाहिए। इसकी जगह वो कश्मीर के लोगों को राहत सामग्री भेजे।

जमात-ए-इस्लामी ने कश्मीर के मुद्दे पर ऑल पार्टी कांफ्रेंस बुलाई थी। उसी कांफ्रेंस में आतंकी हाफिज सईद भी शामिल था। भारत और दुनिया के लिए हाफिज भले ही आतंकी हो लेकिन पाकिस्तान सरकार के लिए वो उनका दामाद है। उस कांफ्रेंस में कहा गया कि भारत सरकार कश्मीरियों के आजादी के संघर्ष को आतंकवाद का नाम देकर संयुक्त राष्ट्र संघ और अंतरराष्ट्रीय समुदाय का इस मुद्दे से ध्यान हटाने की कोशिश कर रही है। पाकिस्तान में बुलाई गई ऑल पार्टी कांफ्रेंस में जमात-ए-इस्लामी के मुखिया और पार्लियामेंट कश्मीर कमेटी के चेयरमैन मौलाना फजलुर रहमान, पीएमएल-एन नेता रजा जफरूल हक, हाफिज सईद समेत कई दूसरे पाकिस्तानी नेता मौजूद थे।

-Nawaz Sharif, Hafiz Saeed

Loading...

Leave a Reply