सरकार की मांग को Whatsapp ने किया इनकार, कहा नही बता पाएंगे मैसेज के सोर्स

नई दिल्ली: सरकार द्वारा व्हॉट्सएप कंपनी मांग किया गया था कि प्लेटफार्म पर मैसेज के सोर्स का पता लगाने के लिए सॉफ्टवेयर विकसित करे जिसे
व्हॉट्सएप ने इनकार कर दिया है।सरकार चाहती है कि व्हॉट्सएप ऐसा समाधान विकसित करे जिससे फेक और झूठे मैसेज प्रसारित करने वाले मूल सोर्स का पता लगाया ताकि हाल में हुए अफवाहों के कारण घटना पर रोक लगाया जा सके ।

जिसपर व्हॉट्सएप के प्रवक्ता ने कहा कि इस तरह का सॉफ्टवेयर बनाने से एक सिरे से दूसरे किनारे तक मैसेज प्रभावित होगी और व्हॉट्सएप की निजी प्रकृति पर भी असर पड़ेगा।जिससे दुरुपयोग होने की संभावना पैदा होगी।इसीलिए हम अपने सिक्योरिटी को को कमजोर नहीं करेंगे।

उन्होंने कहा कि लोग व्हॉट्सएप सभी प्रकार की संवेदनशील सूचनाओं का आदान प्रदान का जरिया है। चाहे को किसी भी प्रकार का हो ।हमारा ध्यान भारत में लोगों के साथ मिलकर काम करने और उन्हें गलत सूचना के बारे में शिक्षित करने पर है।जिससे लोगो लो सुरक्षित रख सके।

सूत्रो के अनुसार मंत्रालय चाहता है कि कंपनी भारतीय कानूनों के अनुपालन के बारे में गंभीर से सोचे।और भारतीय कानूनों के अनुरूप निश्चित समयसीमा में एक स्थानीय कॉरपोरेट इकाई स्थापित करे।

साथ ही कंपनी अपने व्यापक नेटवर्क के साथ शिकायत अधिकारी की नियुक्ति करे. इसके अलावा मंत्रालय इस बात पर भी जोर दे रहा है कि व्हॉट्सएप भारतीय कानूनों के अनुरूप निश्चित समयसीमा में एक स्थानीय कॉरपोरेट इकाई स्थापित करे।

(Visited 18 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *