सेना प्रमुख बोले आतंकियों का सफाया तय, मसूद का भांजा-बेटा सब मरेगा

नई दिल्ली:  पुलवामा में सोमवार को सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी हाथ लगी। मुठभेड़ में तीन आतंकी मारे गए थे। जिनमें से एक जैश ए मोहम्मद का सरगना मसूद अजहर का भांजा अबू तल्हा रशीद भी शामिल है। अबू तल्हा की मौत के बाद सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा हमारा मकसद आतंकियों का सफाया करना है। हम अपना काम कर रहे हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कौन मसूद अजहर का भांजा, बेटा हो या कोई और।

पुलवामा के अगलर कांडी इलके में सेना और आतंकियों के बीच ये मुठभेड़ हुई थी। इन आतंकियों के पास से बेहद ही खतरनाक M4 कार्बाइन भी बरामद की गई है। प्रेस कांफ्रेंस में सुरक्षाबलों ने बताया कि इस गन का इस्तेमाल पाकिस्तानी सेना करती है। इसलिए संभव है कि पाकिस्तानी सेना ने ही आतंकियों को ये गन मुहैया कराया होगा।

पिछले कुछ दिनों से M4 रायफल सोशल मीडिया में भी वायरल हो रही थी। दक्षिण कश्मीर में आतंकी के हाथ में इसे देखा गया था। जिसके बाद ये सवाल भी उठने लगे थे कि अमेरिकी सेना द्वारा इस्तेमाल करने वाला गन कश्मीर कैसे पहुंची। M4 कार्बाइन के अलावे सुरक्षाबलों को आतंकियों के पास से भारी मात्रा में हथियार भी मिले हैं। जिसमें एके-47 रायफल भी शामिल है।

सुरक्षाबल जिस वक्त इन तीनों आतंकियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन चला रहे थे उसी वक्त उनपर पत्थरबाजी भी शुरु हो गई। पत्थरबाजों को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े गए। तनाव को देखते हुए पुलवामा के आसपास के इलाकों में इंटरनेट सेवा पर रोक लगा दी गई है।

इसे भी पढ़ें

J&K में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, जैश सरगना मसूद अजहर का भांजा मारा गया

Loading...