रामायण म्यूजियम लॉलीपॉप है, राम मंदिर से कम मंजूर नहीं- कटियार

अयोध्या: अयोध्या में रामायण म्यूजियम बनाने के केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के फैसले को बीजेपी सांसद विनय कटियार में लॉलीपॉप करार दिया है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर के लिए प्रयास होना चाहिए, यह लॉलीपॉप से कुछ नहीं होनेवाला है। दरअसल केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने अयोध्या से 15 किलोमीटर दूर रामायण म्यूजियम बनाने का फैसला किया है।

अयोध्या में केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शार्मा के कार्यक्रम में भी विनय कटियार नहीं पहुंचे थे। जब उनसे इस बारे में सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि वो बाहर गए हए थे और देर रात को वापस लौटे हैं। इसी वजह से वो केंद्रीय मंत्री के कार्यक्रम में नहीं जा सके। लेकिन पहले उन्होंने कहा था कि वो केंद्रीय मंत्री के कार्यक्रम में इसलिए नहीं जाएंगे क्योंकि वहां संत उनसे राम मंदिर को लेकर सवाल करेंगे। केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा रामायण संग्रहालय के लिए आवंटित जमीन का मुआयना करने अयोध्या गए थे।

महेश शर्मा ने कहा कि यूपी में होनेवाले चुनाव से इस निर्माण का कोई सरोकार नहीं है। अयोध्या में मेरे दौरे का राजनीति से कुछ लेनादेना नहीं है। मैं ये दौरा पर्यटन मंत्री के रुप में करने जा रहा हूं। इसे राजनीति से नहीं जोड़ा जाना चाहिए।

केंद्र सरकार चाहे जो सफाई दे लेकिन विपक्ष इसे राजनीति से जोड़कर ही देख रहा है। सवाल संग्रहालय निर्माण के लिए चुने गए टाइमिंग को लेकर हो रहे हैं। केंद्र में ढाई साल पहले बीजेपी की सरकार बनी। लेकिन अयोध्या सुर्खियों में तब आया है जब यूपी में विधानसभा चुनाव की दस्तक पड़ चुकी है। केवल बीजेपी ही राम को याद नहीं कर रही है समाजवादी पार्टी भी राम का नाम ले रही है।

यूपी सरकार अयोध्या में थीम पार्क के निर्माण की तैयारी कर रही है। लेकिन यूपी सरकार ने भी अपनी तैयारी की शुरुआत अक्टूबर में ही की है। यानि वही वक्त जब कि यूपी में चुनाव की आहट हर तरफ से आ रही है। जिस तरह से चुनाव से कुछ महीने पहले हर राजनीतिक दल अयोध्या की तरफ देख रहे हैं उसे देखते हुए कहा जा सकता है कि आनेवाले दिनो में अयोध्या की सड़कें राजनीतिक चहलकदमी की वजह से व्यस्त रहेंगी।

Loading...