रोटोमैक वाले कोठारी बोले ‘देश से भागा नहीं हूं कानपुर में हूं’

लखनऊ:  नीरव मोदी, पंजाब नेशनल बैंक की चर्चा हर तरफ हो रही है। नीरव मोदी तो 11500 करोड़ लेकर देश छोड़कर भाग चुका है। इसी बीच एक कारोबारी के देश छोड़कर जाने की खबर सुर्खियां बन गई। इसबार नाम था रोटोमैक कंपनी के मालिक विक्रम कोठारी का। विक्रम कोठारी के बारे में ये चर्चा गर्म थी कि वो बैंकों से 3000 करोड़ का कर्ज लेकर देश छोड़कर चले गए हैं। टीवी टुडे की वेबसाइट पर  छपी खबर के मुताबिक इस बीच विक्रम कोठारी का बयान सामने आया है जिसमें उन्होंने कहा है कि वह देश छोड़कर नही गए हैं, और यहीं कानपुर में हैं।

वेबसाइट के मुताबिक कोठारी ने कहा कि मैंने बैंकों से लोन लिया है, ये गलत है कि अभी तक उसे चुका नहीं पाया हूं। मेरा बैंक का एलसी में केस चल रहा है। उसमें जल्द ही फैसला आएगा। उन्होंने आगे कहा कि अभी कानपुर से बाहर नहीं निकला हूं और ना ही कहीं जाऊंगा। उन्होंने कहा बिजनेस की वजह से बाहर के देशों में आना जाना होता रहता है।

विक्रम कोठारी पर पांच अलग अलग बैंकों की तकरीबन 3000 करोड़ रुपये का कर्ज है। इस कर्ज का कोई भी पैसा कोठारी ने अबतक वापस नहीं किया है। इसके बावजूद कोठारी पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है। वे खुलेआम घूम रहे हैं और उनका कारोबार भी चल रहा है। उनपर बैंक के आला अधिकारियों के साथ मिली भगत कर अपनी संपत्तियों की ज्यादा कीमत दिखाकर करोड़ों का लोन लेने का आरोप है।

विक्रम कोठारी रोटोमैक कंपनी के मालिक हैं। 2012 में उन्होंने अपनी कंपनी के नाम पर इलाहाबाद बैंक से 375 करोड़ का लोन लिया था। इसके बाद यूनियन बैंक से 432 करोड़ का लोन लिया। विक्रम कोठारी ने इंडियन ओवरसीज बैंक से 1400 करोड़ का लोन, बैंक ऑफ इंडिया से 1300 करोड़ और बैंक ऑफ बढ़ौदा से 600 करोड़ रुपये का लोन लिया था। लेकिन अबतक उसे चुकता नहीं किया गया है।

Loading...