सुषमा ने 6 मिनट में 60 बार रोकने वाला वीडियो जारी कर मीरा पर साधा निशाना

नई दिल्ली:  राष्ट्रपति चुनाव के लिए यूपीए की तरफ से मीरा कुमार को राष्ट्रपति पद का उम्मीदबाद बनाए जाने के बाद मुकाबला एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद बनाम मीरा कुमार हो गया है। एनडीए ने एक दलित को राष्ट्रपति पद का उम्मीदवार बनाया था जिसके जवाब में यूपीए ने मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाया है जो एक दलित हैं। अब मीरा कुमार पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हमला किया है।

मीरा कुमार ने अप्रैल 2013 के संसद की कार्यवाही का एक वीडियो अपने ट्वीटर पर शेयर किया है। इसके साथ उन्होंने लिखा है मीरा कुमार जब लोकसभा अध्यक्ष थीं तो उनका रवैया पक्षपातपूर्ण होता था। वो विपक्ष को गंभारता से नहीं लेती थीं। मुझे बोलने के लिए 6 मिनट का वक्त दिया गया लेकिन इस 6 मिनट में तत्कालीन लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने मुझे 60 बार बैठ जाने के लिए कहा।

जिस वीडियो को सुषमा स्वराज ने जारी किया है उसमें वो यूपीए सरकार में हुए घोटालों पर बोल रही थीं। जिसमें कोयला घोटाला, सीडब्लूजी घोटाला, 2जी घोटाला जैसे मुद्दों का जिक्र कर रही थीं। सुषमा तब नेता प्रतिपक्ष थीं। सुषमा जब यूपीए सरकार की बखिया उधेड़ रही थीं तब लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने उन्हें कई बार बैठ जाने को कहा।

सुषमा का आरोप है कि उनके बोलते वक्त सत्ता पक्ष के सांसद शोर कर रहे थे। लेकिन मीरा कुमार ने उन्हें शांत रहने के लिए कहने के बजाय मुझे ही बैठ जाने के लिए कह रही थीं। सुषमा के मुताबिक आखिर के 2 मिनट में उन्होंने अपनी बात संसद के समक्ष रखी थी।

सुषमा ने ये वीडियो तब जारी किया है जब कांग्रेस की तरफ से मीरा कुमार को रामनाथ कोविंद से बेहतर उम्मीदवार बताया जा रहा है। इस वीडियो के जरिये सुषमा ने यही सवाल उठाए हैं कि जब लोकसभा अध्यक्ष रहते वो निष्पक्ष नहीं रह सकीं और विपक्ष को बोलने से रोकते रहीं तो फिर वो रामनाथ कोविंद से बेहतर उम्मीदवार कैसे हो सकती हैं।

Loading...

Leave a Reply