मायावती का बयान ‘गठबंधन पर ब्रेक नहीं, लेकिन उप चुनाव अकेले लड़ेंगे’

लखनऊ: सपा-बसपा गठबंधन खत्म होने की खबरें सामने आने के बाद बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस कर बयान दिया है। मायावती ने कहा कि मैंने गिले-शिकवे भुलाकर एसपी से गठबंधन किया। सुख-दुख में हमारे रिश्ते बने रहेंगे। लेकिन साथ ही मायावती ने ये भी कहा की अगर अखिलेश अपनी पार्टी में बदलाव करते हैं तो हम साथ-साथ चलते रहेंगे। लेकिन अगर वो बदलाव नहीं करते हैं तो हमें अकेले चलना ही ठीक होगा। लगे हाथ मायावती ने ये भी कह दिया कि हाल में जो उप चुनाव होनेवाले हैं उसे बीएसपी अकेले लड़ेगी।

मायावती ने लोकसभा चुनाव में गठबंधन की हार पर कहा कि अखिलेश यादव बाहुल्य क्षेत्र में भी यावद वोट को ट्रांसफर नहीं कर पाए। उन्होंने कहा कि यादव वोट एसपी के साथ मजबूती से नहीं रहा। यादव बाहुल्य सीटों पर भी एसपी को उनका साथ नहीं मिला। समाजवादियों की हार का मुझे अफसोस है। मायावती ने कहा कि जब यादव एसपी को वोट नहीं दिये तो बीएसपी को वो कैसे वोट कर सकते थे।

मायावती ने कहा कि अखिलेश की इस कमीं की वजह से एसपी के कई दिग्गज नेता चुनाव हार गए। खुद डिंपल यादव भी चुनाव हार गईं। उन्होंने कहा कि बीजेपी को हराने का हमारे पास सुनहरा मौका था। लेकिन जिस मकसद से हम साथ हुए थे उस मकसद को हासिल करने में हम नाकाम रहे।

उन्होंने कहा कि राजनीतिक विवशताओं को नजर अंदाज नहीं किया जा सकता है। सुख-दुख में हमारे साथ बने रहेंगे। आगे के चुनाव में हमें कामयाबी मिले इसके लिए अखिलेश को जनता को अपनी तरफ करना होगा। लेकिन उसमें वक्त लगेगा। जबकि यूपी में उप चुनाव कभी भी हो सकता है। इसलिए हम (बीएसपी) उप चुनाव अकेले लड़ेगी। आगे चलकर अगर अखिलेश बदलाव करते हैं तो हम साथ-साथ चलते रहेंगे और अगर ऐसा नहीं किया जा सकता है तो फिर हमारा अलग-अलग चलना ही ठीक होगा।

(Visited 17 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *