रियो ओलंपिक में इस धावक के कारनामे जानकर आप भी कहेंगे ‘खाता क्या है?’ 114 सेकेंड # 3 गोल्ड मेडल

उसेन बोल्ट… ये वो नाम है जो जब भी दौड़ लगाता है तो सबको पीछे छोड़ देता है। और इसकी रफ्तार चर्चा का विषय बन जाती है। रियो ओलंपिक में भी यही हुआ। उसेन बोल्ट का ये तीसरा ओलंपिक है। और इस तीसरे ओलंपिक में बोल्ट ने तीन गोल्ड मेडल जीत लिये हैं। जमैके के स्प्रिंटर उसेन बोल्ट रियो की धरती पर खुद की महानता साबित कर अपने देश के लिए विदा हो गए।

बोल्ड ने 2008 के पेइचिंग ओलंपिक में 100 मीटर, 200 मीटर और 400 मीटर रिले रेस में गोल्ड जीते थे। इन तीन कैटेगरी में गोल्ड मेडल जीतने का सिलसिला तब से लेकर अबतक यानि पेइचिंग से लेकर रियो तक जारी रहा । इस कामयाबी के साथ ही बोल्ट दुनिया के कामयाब ओलंपियन बन गए हैं। उनके आगे अमेरिका के माइकल फ्लेप्स हैं। जिन्होंने 23 ओलंपिक गोल्ड मेडल जीते हैं। लेकिन अब फ्लेप्स ओलंपिक को अलविदा कह चुके हैं।

रियो में ओलंपिक के शुरुआत से पहले ही बोल्ट ने कहा था कि अगर वो ट्रिपल-ट्रिपल बना लेते हैं तो वो अमर हो जाएंगे। इस मुकाम हो हासिल करने के बाद उन्होंने कहा मैं महानतम हूं। मुझे लगता है कि मैने कुछ ऐसे पैमाने तय कर दिये हैं जिन्हें कोई और छू नहीं पाएगा। मैं कभी संतुष्ट नहीं हुआ और इसी लगन की वजह से यहां तक पहुंचा हूं। जब मैने शुरुआत की थी तब मुझे जरा भी अंदाजा नहीं था कि मैं यहां तक पहुंचूंगा। अब मैं देर तक जागूंगा और अपनी लाइफ एन्जॉय करुंगा।

अगर ये बात किया जाए कि बोल्ट ने कितने समय रियो ओलंपिक में तीन गोल्ड मेडल जीते। तो इसे जानकार हैरान रह जाएंगे। रियो ओलंपिक में बोल्ट को तीन गोल्ड मेडल जीतने में तकरीबन 114.21 सेकेंड का वक्त लगा। कहने का मतलब है कि बोल्ट ने कुल 114.21 सेकेंड तक ट्रैक पर दौड़ लगाई।

Loading...

Leave a Reply