अमेरिका में उठी मांग पाकिस्तान आतंकी देश है सैन्य सहायता बंद की जाए

नई दिल्ली:  अमेरिका को अब ये एहसास होने लगा है कि पाकिस्तान उनकी तरफसे दी जा रही सहायता का इस्तेमाल आतंकी गतिविधि में कर रहा है। एक बार फिर अमेरिका के दो शीर्ष सांसदों ने ट्रंप प्रशासन से पाकिस्तान को मिलने वाली सहायता में कटौती करने की मांग की है। उन्होंने कहा है इस्लामाबाद के लिए अमेरिकी हथियारों को हासिल करना मुश्किल कर देना चाहिए।

कांग्रेस में सुनवाई के दौरान सांसद सांसद डाना रोहराबाचेर और टेड पो ने पाकिस्तान पर आतंकवाद में शामिल होने का आरोप लगाते हुए कहा कि उसे मिलने वाली सैन्य सहायता में कटौती की जानी चाहिए। रोहराबाचेर ने हाउस ऑफ फॉरेन अफेयर्स सबकमेटी ऑन टेररिज्म, नॉन प्रोलिफिरेशन एंड ट्रेड हियरिंग और फॉरेन मिलिट्री सेल्स के दौरान कहा हमें यह कहने की जरुरत है कि हम पाकिस्तान जैसे देशों को हथियार मुहैया कराने नहीं जा रहे हैं। क्योंकि हमें डर है कि वो इससे हमारे ही लोगों को मारेंगे और हमें पता है कि वह आतंकवाद में शामिल हैं।

उन्होंने कहा ओसामा बिन लादेन का पता लगाने में मदद करनेवाले डॉ. अफरीदी को पाकिस्तान अभी भी तहखाने में रखे हुए है। हमें हमारी सहायता और हथियार मिस्र जैसे देशों को मुहैया करानी चाहिए जो पश्चिमी सहायता सहित सभी सभ्यताओं के लिए मौजूद खतरे के खिलाफ लड़ रहा है और हमें पाकिस्तान जैसे देशों के लिए अमेरिकी हथियारों को हासिल करना और कठिन बना देना चाहिए।

Loading...

Leave a Reply