कासगंज हिंसा: चंदन गुप्ता केस की जांच यूपी STF को सौंपी गई

कासगंज हिंसा: चंदन गुप्ता केस की जांच यूपी STF को सौंपी गई

नई दिल्ली:  कासगंज में 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा के दौरान चंदन गुप्ता के हत्यारों को अब यूपी की स्पेशल टास्क फोर्स यानि एसटीएफ तलाश करेगी। सरकार ने यूपी एसटीएफ को चंदन के हत्यारों की तलाश करने के लिए जांच सौंप दी है। यूपी एसटीएफ के आईजी ने इस बात की पुष्टि कर दी है। उन्होंने कहा है कि उनकी टीम इस हत्याकांड और चंदन के हत्यारों की तलाश के लिए कासगंज पहुंच चुकी है।

कासगंज हिंसा मामले में कुल 20 लोगों को आरोपी बनाया गया है। जिनमे से पांच की गिरफ्तारी हो चुकी है। 15 आरोपी अभी भी फरार चल रहे हैं। चंदन की हत्या करनेवालों में तीन मुख्य आरोपी सलीम, वसीम और नसीम हैं। ये तीनों सगे भाई हैं और तीनों ही फरार हैं। यूपी पुलिस ने मंगलवार को इनके घर पर समन चपकाया है जिसमें इन्हें 1 मार्च तक कोर्ट के सामने पेश होना है। अगर तबतक ये कोर्ट के सामने पेश नहीं होते हैं तो इनके घर की कुर्की की जाएगी।

कासगंज में चंदन की हत्या उस वक्त कर दी गई थी जव बो 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा लेकर निकला था। चंदन के साथ कई और लोग भी थे। तिरंगा यात्रा में चंदन सबसे आगे चल रहा था। वो बुलेट मोटरसाइकिल पर सवार था और उसके साथ उसके दो और साथी भी बैठे थे। इसी दौरान दूसरे समुदाय के लोगों से कहासुनी हुई और इसी बीच चंदन को गोली मार दी गई।

Loading...