4 बच्चे की मां ने अपने आशिक के साथ मिलकर पति की हत्या कर घर में दफना दिया,8 महीने बाद हुआ खुलासा

बाराबंकी/यूपी:यूपी के बाराबंकी में आशिकी की चरमसिमा पर पहुची 4 बच्चों की मां ने अपने आशिक के साथ अवैध संबंध कायम रखने के लिए पति की हत्या करवा दी।और फिर लाश को घर में ही दफना कर फरार हो गयी।

जिसके करीब 8 महीने बाद मामले का तब खुलासा हुआ जब 4 दिन पूर्व उसका बड़ा बेटा नानी के घर से अनाज लेने के लिए अपने घर आया था। पुलिस ने इस मामले में पत्नी समेत 2 को गिरफ्तार किया है।

मामला थाना रामनगर के अमोली कीरतपुर का है। बाराबंकी के थाना रामनगर के ग्राम अमोली कीरतपुर निवासी अनिरुद्ध गोस्वामी बीते 8 महीने से गायब था ।जिसके खोज में पत्नी रीता देवी व परिवार के अन्‍य लोगों ने स्थानीय थाने को भी सुचना नहीं दी थी।

मृतक का बड़ा पुत्र 18 वर्षीय सोनू और उसकी एक बहन बचपन से ही अपने ननिहाल जीयनपुर थाना जैदपुर में रहता है।जब वो अनिरुद्ध का बड़ा बेटा सोनू 4 दिन पहले 29 जुलाई को राशन व अनाज लेने घर आया तो बन्द कमरे को खोंलने से तेज बदबू आई।जिसकी सुचना स्थानीय पुलिस को दी गई।फिर कमरे की खुदवाई करवाने के बाद अनिरुद्ध का शव मिला।पुलिस ने इस मामले में मुकदमा दर्ज किया।और इस मामले को लेकर तीन लोग रीता देवी ,उसका आशिक अजय,और अजय के चाचा को जेल भेज दिया है

कैसे मारा गया था अनिरुद्ध को….
लेकिन पुलिस के खोजबीन के दौरान चौका देने वाला खुलासा हुआ।पता चला कि अनिरुद्ध की पत्नी का अवैध संबंध एक अजय नामक व्यक्ति से था।जिसे अनिरूद्ध अपनी पत्नी के साथ अपने घर में आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया था।जिससे विवाद खड़ा हो गया था।और अपनी पत्नी रीता को मारता भी था।

जिसके बाद इससे आक्रोशित अजय और रीता ने मिलकर अनिरुद्ध को रास्ते से हटाने का प्लान बनाकर जनवरी के महीने में जब गांव में रामलीला का नाटक चल रहा था।तो उसके साथ रहने वाली बड़ी बेटी व छोटा बेटा रामलीला नाटक देखने गया था।और साथ ही पूरा गांव नाटक देखने गया था।

इस सुनहरे मौके को देखकर अजय अपने चाचा तेज प्रताप उर्फ तेजा को साथ लेकर आया और सो रहे अनिरूद्ध को गले में प्लास्टिक की रस्सी डालकर मार दिया।जिस दौरान रीता ने अनिरूद्ध के पैर दबाए रखा।और मार दिया।

जिसके बाद घर में ही गड्ढा खोदकर अनिरुद्ध की शव को गाड़ दिया गया।और फिर सुबह रीता अफवाह फैलाने लगी कि रात में अनिरूद्ध ने मारा पीटा और मेरे सोने के गहने लेकर चण्डीगढ़ चला गया।

Loading...