बलिया के गेहूं खरीद केंद्र पर योगी के मंत्री की छापेमारी, पकड़ी गई भारी गड़बड़ी

नई दिल्ली:  योगी सरकार के मंत्री से लेकर विधायक तक पूरी तरह से एक्शन में हैं। गोरखपुर से बनारस तक और लखनऊ से गाजियाबाद तक हर विभाग और हर अधिकारी को उनकी जिम्मेदारी का एहसास कराया जा रहा है। अस्पताल से लेकर थानों और सरकारी खरीद वाले बाजारों तक का निरीक्षण किया जा रहा है। इसी क्रम में बलिया के गेहूं खरीद केंद्र में योगी सरकार के राज्य मंत्री उपेंद्र तिवारी ने छापेमारी की।

राज्यमंत्री उपेंद्र तिवारी को शिकायत मिली थी कि बलिया में गेहूं खरीद केंद्र पर भारी गड़बडी की हो रही है। इस शिकायत के बाद अचानक मंत्री जी गेहूं खरीद केंद्र पर पहुंच गए। मंत्री को देखकर जिस तरह से गेहूं खरीद केंद्र पर अफरा तफरी मची उससे साफ हो गया वहां गेहूं की नहीं गड़बड़ी की मंडी सजी थी। ट्रकों पर गेहूं लदे थे। लेकिन जब मंत्री जी के आने की खबर वहां फैली तो ड्राइवर ट्रक लेकर भागने लगे।

इस अफरा तफरी को देखकर मंत्री जी ने आदेश दिया कि एक भी ट्रक बचकर नहीं निकलना चाहिए। सभी को पकड़ा जाए। इसके बाद पुलिस हरकत में आई और एक एक कर सभी ट्रकों को पकड़ लिया गया। इसके बाद उन ट्रकों पर लदे गेहूं के बोरों की चेकिंग की गई। जिसमें पाया गया कि तकरीबन हर बोरे से गेहूं की चोरी की गई थी। बोरे में कहीं न कहीं छेद कर उनसे गेहूं निकाले गए थे।

इसके बाद मंत्री जी उस जगह पर पहुंचे जहां पर नाप तौल की जा रही थी। यहां भी गड़बड़ी सामने दिख गई। जिसके बाद इस पूरे मामले की जांच के आदेश दिये गए। उस रजिस्टर को मंगवाया गया जिसमें गेहूं खरीद की एंट्री की जाती थी। जाहिर है जिस तरह की गड़बड़ी बलिया के गेहूं खरीद केंद्र पर दिखाई दी है उसके बाद इसकी जांच भी करवाई जा सकती है। क्योंकि जिस तरह से एक दिन की छापेमारी में कई गड़बड़ी सामने आई है उसके बाद इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है कि गेहूं खरीद में लंबे वक्त से भारी धांधली की जा रही थी।

इसे भी पढ़ें

CM योगी ने अपने मंत्रियों की दी सख्त चेतावनी, योगी के 30 दिन पूरे

इस तरह की गड़बड़ी सामने आने के बाद मंत्री जी ने बलिया के दूसरे गेहूं खरीद केद्रों पर भी छापेमारी की। वहां भी गड़बड़ी की शिकायत मिली थी। इस बात की भी संभावना है कि इस तरह की गड़बड़ी देखने के बाद अब इसकी नए सिरे से जांच के आदेश दिया जा सकते हैं।

Loading...