गौरक्षक बने केंद्रीय मत्री बाबुल सुप्रीयो तो भड़क गए TMC कार्यकर्ता

आसनसोल: मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो को गौरक्षक बनना महंगा पड़ गया। आसनसोल में बाबुल सुप्रीयो के काफिले पर टीएमसी कार्यकर्ताओं ने हमला कर दिया। जिसमें केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो को भी चोट आई। सारा विवाद गाय ले जा रहे कुछ लोगों की कागजात की जांच से शुरु हुआ।

आसनसोल में केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रीयो किसी कार्यक्रम से लौट रहे थे। तभी उन्हें कुछ लोग गाय ले जाते हुए दिख गए। जिसके बाद बाबुल सुप्रीयो ने उनके कागजात जांचे। जब उनसे पूछा गया कि गाय कहां ले जा रहे हो क्या ये तस्करी है तो गाय ले जाने वालों ने कहा नहीं वो गाय के व्यापारी हैं। जिसके बाद बाबुल सुप्रीयो ने उनके कागजात को फर्जी बताया। गाय ले जा रहे लोगों को बाबुल सुप्रीयो ने थप्पड़ भी मारा। उस वक्त तो बात खत्म हो गई।

लेकिन कुछ देर बाद भारी तादाद में स्थानीय लोग सड़कों पर आ गए। जो लोग बाबुल सुप्रीयो के काफिले पर हमला करने आए थे वो टीएमसी के कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं। उन लोगों ने बाबुल सुप्रीयो के काफिले पर हमला कर दिया। गुस्साए लोगों ने बाबुल सुप्रीयो की गाड़ी पर भी पथराव किया। हंगामा कर रहे लोगों ने काफिले में शामिल कई गाड़ियों को बुरी तरह से तोड़ डाला। बाबुल सुप्रीयो के काफिले में शामिल कई लोगों की पिटाई भी की गई।

इस हंगामे में बाबुल सुप्रीयो को भी चोट आई है। उन्होंने इसके लिए तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाया है। आरोप है कि तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने काफी दूर तक बाबुल सुप्रीयो की गाड़ी का पीछा किया और पथराव किया। बाद में मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह से मामला शांत किया। बाबुल सुप्रीयो आसनसोल से ही बीजेपी के सांसद हैं।

Loading...