मोदी सरकार का आखिरी पूर्ण बजट, किसानों के लिए हुआ ये एलान

मोदी सरकार का आखिरी पूर्ण बजट, किसानों के लिए हुआ ये एलान

नई दिल्ली:  मोदी सरकार ने अपना आखिरी पूर्ण आम बजट पेश किया। जिसमें कई नई घोषणाएं की गईं। मोदी सरकार के इस बजट ने किसानों को खुश होने की वजह दे दी है। क्योंकि सरकार ने फैसला किया है कि अब किसानों को उनकी फसल की लागत का डेढ़ गुणा मिलेगा। इसका मतलब ये हुआ कि सरकार ने न्यूनतम समर्थन मूल्य को फसल की लागत का डेढ़ गुणा करने का फैसला किया है।

वित्त मंत्री ने कहा कि रबी की फसल के लिए फसलों का समर्थन मूल्य डेढ़ गुणा किया जा चुका है लेकिन अब दूसरी फसलों को भी यह मूल्य दिया जाएगा।

सरकार ने फैसला किया है कि खेती के लिए 11 लाख करोड़ कर्ज देगी।

किसानों को उनकी फसल का उचित मुल्य दिलाने की पूरी व्यवस्था की जा रही है। इसी को देखते हुए कृषि मंडी व्यवस्था में सुधार के लिए 2000 करोड़ रुपये के कोष की व्यवस्था की गई है।

वित्त मंत्री ने कहा कि किसानों की आमदनी 2022 में दोगुनी होगी

रिकॉर्ड खाद्यान्न हुआ है। 2016-17 में 275 मिट्रिक टन खाद्यान्न और 300 मीट्रिक टन फल और सब्जियां पैदा हुईं।

नीति आयोग केंद्र और राज्य सरकारो के साथ मिलकर किसानों को फसल के उचित दाम दिलाएगा।

सभी मंत्रालयों के अधिकारियों को शामिल कर उर्वरकों के इस्तेमाल और मौसम के अनुमान और निर्यात को लेकर बड़े फैसले लिया जाएंगे।

किसानों को सीधे फसल बिक्री की जानकारी दी जाएगी। पिछड़े इलाकों में रहनेवाले किसानों के घरों को सड़कों से जोड़ जाएगा और उनके फसल को सीधे बिक्री केंद्रों तक पहुंचाया जाएगा।

ग्राउंड वाटर इरिगेशन में हर खेत को पानी देने का लक्ष्य है। इसके लिए 1600 करोड़ रुपये आवंटित किये गए।

Loading...