राष्ट्रपति, उप-राष्ट्रपति, गवर्नर का वेतन बढ़ेगा, सांसदों को बड़ी खुशखबरी

नई दिल्ली:  वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर है। जल्द ही भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा। उन्होंने कहा कि कैश का चलन कम हुआ है। अपने बजट भाषण में वित्त मंत्री ने सांसदों को बहुत बड़ी खुशखबरी दी है।

वित्त मंत्री ने कहा की राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति और राज्यपाल की सैलरी बढ़ेगी। राष्ट्रपति का वेतन 5 लाख, उप राष्ट्रपति का वेतन 4 लाख होगा। इसके साथ साथ राज्यपाल का वेतन 3 लाख रुपये होगा। वित्त मंत्री ने कहा कि सांसदों के वेतन हर साल बढ़ेंगे और सांसदों के भत्ते में इजाफा होग।

14 बड़ी कंपनियां शेयर बाजार में लिस्ट होंगी और दो बड़ी बीमा कंपनियों की शेयर बाजार में लिस्टिंग होगी। सरकारी कंपनियां बेचकर 80,000 करोड़ रुपये जुटाए जाएंगे।

बिटकॉइन पर वित्त मंत्री ने कहा देश में बिटकॉइन जैसी करेंसी गैरकानूनी है। ये देश में नहीं चलेगी। रिजर्व बैंक इसके बारे में पहले ही एलान कर चुका है।

सरकार का घाटा 2017-18 में 5.95 लाख करोड़ रुपये होगा. अभी जीडीपी का 3.5 फीसदी सरकारी घाटा है। डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 12.6 फीसदी बढ़ा है। अगले साल का घाटा 3.3 फीसदी रहने का अनुमान है। इनकम टैक्स कलेक्शन 90 हजार करोड़ रुपये बढ़ा है। टैक्स देने वाले 19.25 लाख बढ़े हैं।

सरकार का घाटा 2017-18 में 5.95 लाख करोड़ रुपये होगा. अभी जीडीपी का 3.5 फीसदी सरकारी घाटा है। डायरेक्ट टैक्स कलेक्शन 12.6 फीसदी बढ़ा है। अगले साल का घाटा 3.3 फीसदी रहने का अनुमान है। इनकम टैक्स कलेक्शन 90 हजार करोड़ रुपये बढ़ा है।

Loading...