गर्मी में इन फलों का करें सेवन,बनायेगा आपको सेहतमंद

प्रियांशु आनंद/पुर्णिया

पुर्णिया/बिहार:  गर्मी के मौसम में अक्सर लोग फलों के सेवन पर ध्यान नहीं दे पाते हैं। लेकिन फलों का सेवन ही आपको गर्मी के मौसम में स्वस्थ बनाए रखता है। फल न केवल चिलचिलाती धूप की तपिश से होनेवाले नुकसान से बचा जा सकता है बल्कि जटिल रोगों से भी राहत दिलाता है।

गर्मी के दिनों में फलों से बेहतर आहार कुछ नहीं है। और आज कल बाजार में ऐसे बेहतर आहार की कमी नहीं है। शहर के कुछ जाने-माने चिकित्सकों से हुई बातचीत पर मौसमी फलों के कई फायदे सामने आए।

लकवे से पीड़ित व्यक्ति को तरबूज लेना चाहिए। इसमें एंटिआॅक्सिडेंट पाए जाते हैं। जो इस रोग के असर को कम करते हैं।

स्ट्राॅबेरी में एंजाइम्स पाए जाते हैं। जो जोड़ों के दर्द या गठिया की तकलीफ बढ़ने पर असरकारक होते हैं। स्ट्राॅबेरी हृदय रोगियों के लिए भी फायदेमंद है। पसीने के साथ निकलनेवाले जरूरी तत्वों की भरपाई शीतल पेय नहीं कर पाते। इसके लिए फलों की जरूरत होती है।

आम, पपीता और संतरे जैसे पीले रंग के फलों में एंटीआॅक्सिडेंट और बीटा केरोटिन होते हैं। जो शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाते हैं। गर्मी में बच्चे संक्रमण से पीड़ित हो जाते हैं। ऐसे में उन्हें पीले रंग के मौसमी फल जरूर खिलाने चाहिए। केला और अनानास में डायरिया रोकने की क्षमता होती है।

फलों के रस के बजाय पूरा फल खाने को तरजीह दी जानी चाहिए। रस निकाल लेने से विटामिन की मात्रा कम हो जाती है। पूरा फल खाया जाए तो शरीर में फाइबर और विटामिन की पर्याप्त मात्रा पहुंचती है। इसके अलावा पपीते में पपेन एंजाइम पाया जाता है जो पाचन तंत्र के लिए काफी फायदेमंद है। इसमें काफी मात्रा में विटामिन सी, विटामिन ए और पोटाशियम भी पाए जाते हैं जो दिल के लिए लाभदायक है।

साथ ही इसमें विटामिन ए और सी भी इसमें भरपूर होता है। जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता है। अनार में एंटीऑक्सिडेंट्स और फाइटो न्यूट्रेंट पाए जाते हैं जो हृदय और रक्त संचार को सुचारू रखने के लिए फायदेमंद हैं।

कमजोरी को दूर करेगा सेब
गुर्दे की बीमारी से पीड़ित लोगों को गर्मी में रोजाना सेब जरूर खाना चाहिए। वैज्ञानिक शोध में साबित हो चुका है कि कैंसर को रोकने में सेब काफी मदद करता है। दिल की बीमारी और कई तरह की कमजोरियों को दूर करने का रामबाण सेब ही है। सेब में शरीर के लिए फायदेमंद एंटी ऑक्सिडेंट्स और पॉलिफेनोल्स भी पाए जाते हैं।

ह्रदय रोग से बचाएगा केला
केले में भरपूर पोटाशियम पाया जाता है। पोटाशियम किडनी के लिए काफी फायदेमंद है। स्वस्थ रहने के लिए भी शरीर में पर्याप्त मात्रा में पोटाशियम रहना अति आवश्यक है। केला खाने से हृदय संबंधित बीमारी से भी बचा जा सकता है।

बच्चों के लिए फायदेमंद फल
नाशपाती बच्चों के लिए और अधिक फायदेमंद है। छोटे बच्चों को सबसे पहले आहार के रूप में नाशपाती खिलाया जाता है। इसमें जरूरी हाइपोएलर्गेनिक पाया जाता है और यह विटामिन सी का भी अच्छा श्रोत है। वहीं खीरे में बीटा केरोटीन तथा विटामिन सी सहित कई लाभदायक एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। खीरा में पाए जाने वाले तत्व क्वेरसेटिन प्राकृतिक एंटी-हिस्टेमीन की तरह काम करता है। इससे एलर्जी के कारण होने वाली प्रतिक्रिया में कमी हो सकती है।

एंटिऑक्सिडेंट कैंसर से बचाव करने में सहायक होते हैं। खीरे में पाया जाने वाला फिसेटिन दिमाग के लिए फायदेमंद होता है। स्मरण शक्ति बढ़ा कर दिमागी कमजोरी से बचाता है और खीरे से पर्याप्त मात्रा में शरीर को पानी भी मिलता है। खीरा में विटामिन, खनिज तथा पोषक तत्व से भरपूर होता है। इसमें लगभग 95 प्रतिशत पानी होता है। इससे शरीर को पानी और ठंडक पर्याप्त मात्रा में मिलते हैं। खीरा में विटामिन सी, विटामिन के, विटामिन ए, तथा पोटेशियम , फास्फोरस, कॉपर मेंगनीज, मेग्नेशियम आदि खनिज तत्व पाए जाते हैं। इसमें पाया जाने वाला फिसेटिन नामक विशेष तत्व दिमाग को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

इससे मिलने वाले पॉलीफेनोल्स कई प्रकार के कैंसर से बचाते हैं। इसमें घुलनशील फाइबर प्रचुर मात्रा में होता है लेकिन केलोरी बहुत कम होती है। अमरूद एनर्जी से भरपूर होता है। इसमें फाइबर, विटामिन सी, मैगनीज, कैल्शियम और आयरन पाया जाता है। तरबूज में बीटा कैरोटिन और लाइकोपिन जैसे पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं। विटामिन सी, कैल्सियम, मैग्निशियम, फाइबर, प्रोटीन और पोटाशियम भी हैं। इसमें विटामिन ए, विटामिन बी6, नियासिन, थियामिन, और कैरोटीनॉइड और फिओन्यूट्रॉएन्ट्स प्रचूर मात्रा में पाए जाते हैं। तरबूज आपके वजन घटाने के प्रयासों में सहायता कर सकता है। गर्मी के मौसम में तरबूज एक पसंदीदा फल है जो न केवल आपके पेट को शांत करने में मदद करता है बल्कि यह महत्वपूर्ण विटामिन और एंटिऑक्सिडेंट प्रदान करता हैं।

Loading...