पुलवामा में 18 घंटे चला ऑपरेशन, 8 जवान शहीद

नई दिल्ली:  जम्मू कश्मीर के पुलवामा में शनिवार को इस साल का सबसे बड़ा आतंकी हमला किया गया। इस आतंकी हमले में 8 जवान शहीद हो गए। जबकि जैश के तीन आतंकी मारे गए हैं। शहीद हुए जवानों में 5 सीआरपीएफ के जवान हैं और तीन जम्मू कश्मीर पुलिस के जवान शामिल हैँ। पुलवामा में 18 घंटे तक सेना और आतंकियों के बीच ऑपरेशन चला।

आतंकियों ने पुलवामा में पुलिस लाइन में रिहायशी इलाके में हमला किया था। आतंकियों ने शनिवार को  सुबह सुबह पुलिस लाइन में हमला किया था। सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभालते हुए आतंकियों को जवाब दे रहे हैं। आतंकियों ने इसबार पुलिस लाइन में उस जगह को निशाना बनाया था जहां पर सेना और पुलिस जवान के परिवार वाले रहते हैं। लेकिन फौरन हरकत में आए सुरक्षाबलों ने आतंकी हमले वाली जगह से 36 परिवारों को बाहर निकाल लिया।

शनिवार सुबह दो से तीन संदिग्धों को पुलिस लाइन के इलाके में देखा गया था। जिसके बाद मौका मिलते ही उन्होंने सीआरपीएफ और पुलिसकर्मियों पर फायरिंग शुरु कर दी। इस हमले की जिम्मेदारी जैश ए मोहम्मद ने ली है।

जिस तरह से पुलिस लाइन को आतंकियों ने निशाना बनाया उससे ये साफ है कि इसमें बड़ी खुफिया चूक हुई है। क्योंकि ये हमला ऐसे वक्त में हुआ है जब जम्मू कश्मीर में सेना और अर्धसैनिक बलों ने आतंकियों के खिलाफ बड़ा ऑपरेशन छेड़ रखा है। ऐसे में आतंकी ऐसी ही मौके की तलाश में थे।

Loading...