TDP ने केंद्र सरकार से समर्थन वापस लिया, दोनों मंत्री गुरुवार को देंगे इस्तीफा

नई दिल्ली: आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं मिलने से नाराज चंद्र बाबू नायडू की पार्टी टीडीपी ने एनडीए से नाता तोड़ लिया है। पार्टी सुप्रीमो चंद्र बाबू नायडू ने एनडीए से अलग होने का एलान किया। उन्होंने कहा कि हम सत्ता के भूखे नहीं है। केंद्र सरकार में टीडीपी दो मंत्री हैं दोनों मंत्री अब गुरुवार को अपना इस्तीफा देंगे। बुधवार रात चंद्रबाबू नायडू ने एनडीए गठबंधन से अलग होने का एलान किया।

चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि राज्य के साथ अन्याय हुआ है। जिसके चलते हमने केंद्र सरकार में अपने दोनों मंत्रियों के इस्तीफे का फैसला किया है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने का अपना वादा नहीं निभाया। जिसके चलते हमने समर्थन वापस लेने और सरकार से अलग होने का फैसला लिया है। उन्होंने आगे कहा कि हम सत्ता के भूखे नहीं है और उनके दोनों मंत्री गुरुवार को केंद्र सरकार से इस्तीफा देंगे। केंद्र सरकार में अशोक गजपति राजू और वाई एस चौधरी मोदी सरकार में टीडीपी कोटे  से मंत्री हैं।

वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बुधवार शाम को ही ये साफ कर दिया था कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा नहीं दिया जा सकता है। उन्होंने कहा था कि संविधान इसकी इजाजत नहीं देता है। उन्होंने कहा था कि आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य नहीं बल्कि स्पेशल पैकेज दिया जाएगा। जेटली ने कहा था कि अब राज्यों के लिए स्पेशल स्टेटस का प्रावधान नहीं बचा है। इसलिए केवल नॉर्थ ईस्ट के राज्यों को ही स्पेशल स्टेटस दिया जा सकता है। जहां केंद्र की स्कीम के लिए 90 फीसदी खर्च केंद्र सरकार उठाती है और केवल 10 फीसदी राज्य सरकार को खर्च करना पड़ता है।

Loading...