palnisami-cm-tamilnadu-and-sasikala

तमिलनाडु के CM पलनिसामी और शशिकला AIADMK से निकाले गए

तमिलनाडु के CM पलनिसामी और शशिकला AIADMK से निकाले गए




नई दिल्ली: लंबे दौर तक सस्पेंस के बाद पलनिसामी तमिलनाडु के सीएम बन गए। लेकिन पार्टी में वर्चस्व की लड़ाई थमी नहीं है। पन्नीरसेल्वम और शशिकला गुट इस कोशिश में लगे हैं कि AIADMK पर किसका अधिकार है। यही वजह है कि दोनों गुट अपने विरोधी गुट के नेताओं को पार्टी से बाहर निकाल रहे हैं। ताजा घटनाक्रम में शुक्रवार को पन्नीरसेल्वम गुट ने शशिकला और उसके दो रिश्तेदारों को पार्टी से निकाल दिया। जबकि सीएम पलनिसामी समेत 13 जिला सचिवों को बर्खास्त कर दिया है।

हाल ही में AIADMK के प्रेसिडियम चेयरमैन पद से हटाए गए ई. मधुसूदनन ने पार्टी के सिद्धांतों और आदर्शों के खिलाफ जाने के लिए शशिकला और उनके दो रिश्तेदारों को पार्टी से निष्कासित कर दिया। मधुसूदनन ने अपने बयान में कहा शशिकला ने दिवंगत जयललिता से किये गए उन वादों का उल्लंघन किया जिसमें उन्होंने कहा था वह राजनीति में नहीं उतरेंगी और पार्टी या सरकार का हिस्सा बनने की उनकी इच्छा नहीं है।

शशिकला को पार्टी से निकालने के थोड़े ही देर बाद मधुसूदनन ने सीएम पलनिसामी, लोकसभा के डेप्युटी स्पीकर एम. थंबीदुरई, मंत्री डिंडिगुल सी. श्रीनिवासन, पी. थैंगमानी, सीवी षडमुगम, के राजू, आर बी उदयकुमार और राज्यसभा सांसद ए. नवनीतकृष्णन की पार्टी की प्राथमिक सदस्यता रद्द करने का एलान कर दिया।

राज्यपाल ने पलनिसामी को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का वक्त दिया था। लेकिन जानकारी के मुताबिक पलनिसामी शनिवार को विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे। AIADMK के भीतर सियासी घमासान तब शुरु हुआ था जब 7 फरवरी को पन्नीरसेल्वम ने शशिकला के खिलाफ बगावत कर दी थी और कहा था कि उनसे जबरन इस्तीफा लिया गया था।

Loading...

Leave a Reply