लाल किले के भीतर मिला कारतूसों का जखीरा और हैंडग्रेनेड!




नई दिल्ली: पुरातत्व विभाग के सफाई अभियान में दिल्ली में लाल किला के भीतर भारी मात्रा में राइफल के कारतूस और हैंड ग्रेनेड मिले हैं। इसके बारे में पुलिस का कहना है कि ये सभी एक्सपायरी डेट की हैं। माना जा रहा है ये उस वक्त की होंगी जब आर्मी लाल किले के आंदर रहा करती थी। और लाल किला खाली करते वक्त ये छूट गए होंगे।

सूत्रों के मुताबिक कारतूस और हैंड ग्रेनेड उस जगह पर मिले जहां आमतौर पर कोई आता जाता नहीं है। ये भी हो सकता है कि किसी ने इसे यहां पर छिपाकर रखा हो। कारतूसों की संख्या देखकर पुलिस भी हैरान रह गई। इसे गंभीर मसला माना जा रहा है क्योंकि हर साल 15 अगस्त को प्रधानमंत्री इसी लालकिले से देश को संबोधित करते हैं।

15 अगस्त के आयोजन से पहले पूरे लालकिले की तलाशी लेने के दावे किये जाते हैं। लेकिन इतनी भारी मात्रा में कारतूस और हैंड ग्रेनेड मिलने के बाद उस दावे पर सवाल भी उठ रहे हैं। और इसे सुरक्षा में बड़ी चूक माना जा रहा है। सवाल ये है कि अगर हर साल 15 अगस्त पर लालकिले की तलाशी ली जाती है तो फिर इतने कारतूस और हैंड ग्रेनेड की बरामदगी कैसे हुई?

इसी लालकिले पर एक बार आतंकी हमला भी हो चुका है। लश्कर ए तैयबा के आतंकियों ने 2000 में लालकिले के भीतर अंधाधुंध फायरिंग की थी। जिसमें तीन जवानों की मौत हुई थी। उसके बाद कई बार लालकिले पर आतंकी हमले की धमकी मिल चुकी है। और अब इतनी बड़ी मात्रा में कारतूसों का मिलना चिंता का विषय है।

Loading...

Leave a Reply