मोसुल में ISIS ने 39 भीरतीयों की हत्या की थी, DNA सैंपल से हुई पुष्टि- सुषमा स्वराज

नई दिल्ली: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि जो 39 भारतीय इराक में लापता हुए थे उन सभी लोगों की हत्या ISIS ने कर दी थी। उन्होंने कहा कि वहां कुल 40 भारतीय थे। लेकिन उनमें से एक हरजीत मसीह जो उन सभी 39 भारतीयों को लेकर इराक के मोसुल गया था वो अली बनकर बच निकला था। लेकिन बाकी सभी 39 भारतीयों की हत्या ISIS के आतंकियों ने कर दी थी। जिन लोगों की हत्या की गई थी वो भारत के चार राज्यों पंजाब, हिमाचल, पश्चिम बंगाल और बिहार के रहनेवाले थे।

जानिये सुषमा स्वराज ने राज्यसभा में क्या कहा…

मोसुल से लापता 39 भारतीयों की हत्या की गई

हरजीत मसीह ने जो कहा वो सही नहीं था

हरजीत मसीह इराक से बचकर निकल गया था

हरीत मसीह अली बनकर इराक से बच निकला था, कंपनी के मालिक ने इस बात की जानकारी दी थी

पंजाब, हिमाचल, वेस्ट बंगाल और बिहार के लोग थे

सभी के डीएनए सैंपल भेजे गए

बगदाद में राजदूत से डीएनए सैंपल मिलाने के लिए कहा गया

पहाड़ी से शव को खोदकर निकाले गए थे

सबसे पहले संदीप का डीएनए का मिलान हुआ

सभी शव को बगदाद भेजे गए थे

38 लोगों का ड़ीएनए मैच हो चुका है और 39वें का सैंपल 70 फीसदी मैच हुआ है

जनरल वीके सिंह ने इस काम में काफी अहम भूमिका निभाई

मोसुल में उन 39 लोगों के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने में अहम भूमिका निभाई।

डीप पैनिट्रेशन रडार से शवों के बारे में पता लगाई गई। इराक सरकार का भी इसके लिए मैं आभार व्यक्त करता हूं।

Loading...