कांग्रेस ने POK में सर्जिकल स्ट्राइक को बताया फर्जी !

दिल्ली: 28 सितंबर की रात जब भारतीय सेना के स्पेशल कमांडो ने POK में सर्जिकल स्ट्राइक किया तो पूरे देश में उसका स्वागत किया गया। सेना की बहादुरी और मोदी सरकार की मजबूत इच्छाशक्ति की हर तरफ तारीफ हुई। देश ही नहीं विदेशों में भी अलग अलग देशों ने POK में भारत की इस कार्रवाई का समर्थन किया गया। लेकिन हफ्तेभर पहले की उस बड़ी कामयाबी से अब सियासी दलों का भरोसा उठ चुका है।

उस वक्त कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन किया था। और कहा था कि वो देश हित में इस तरह की हर कार्रवाई पर सरकार के साथ है। लेकिन अब कांग्रेस की सोच बदल चुकी है।

कांग्रेस नेता निरुपम से लेकर यूपीए सरकार में मंत्री रह चुके पी. चिदंबरम ने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए इसे फर्जी बताया है। इन दोनों नेताओं के बीच में कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह भी हैं। दिग्विजय सिंह ने भी सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हुए सरकार से सबूत मांगे हैं।
कांग्रेस नेता संजय निरुपम ने ट्वीट कर लिखा है कि हर भारतीय पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक चाहता है। लेकिन बीजेपी की तरह राजनातिक फायदे के लिए फर्जी नहीं।

एक और कांग्रेस नेता पी.चिदंबरम ने भी इसी तरह से सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाए हैं। चिदंबरम ने कहा था भारतीय सेना ने इससे पहले भी नियंत्रण रेखा पार कर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था। चिदंबरम ने कहा था कि यूपीए-2 सरकार के समय सेना ने जनवरी 2013 में बड़ा हमला किया था। चिदंबरम ने ये भी कहा कि इस हमले को भारत की पाकिस्तान के प्रति नीति में बदलाव की मिसाल के रुप में देखना जल्दबाजी होगी।

अब एक और कांग्रेसी नेता दिग्विजय सिंह ने भी सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाए हैं। दिग्विजय सिंह ने कहा कि हम सेना की बहादुरी का सम्मान करते हैं। लेकिन यूएन के ऑबजर्वर की तरफ से ये कहा जा रहा है कि POK में सर्जिकल स्ट्राइक जैसा कुछ नहीं हुआ है तो सरकार के दावे पर सवाल भी उठते है। दिग्विजय सिंह ने कहा कि सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक की सत्यता पर उठनेवाले सवाल पर सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत सामने लाने चाहिए।
कांग्रेस से पहले दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल भी इसपर सवाल उठा चुके हैं। उन्होंने कहा था कि पाकिस्तान जिस तरह से प्रोपेगेंडा फैला रहा है उसका जवाब सरकार को देना चाहिए। केजरीवाल ने ये भी कहा था कि मोदी सरकार को सर्जिकल स्ट्राइक का वीडियो जारी करना चाहिए।

इन सवालों पर बीजेपी प्रवक्ता और केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से पूछा कि पी. चिदंबरम ने जिस तरह की टिप्पणि सर्जिकल स्ट्राइक पर की है क्या कांग्रेस का भी वही लाइन है। रविशंकर प्रसाद ने कहा था अगर इस तरह का बयान कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने दिया होता तो इसे वो गंभीरता से नहीं लेते। क्योंकि दिग्विजय सिंह इसी तरह के बयानों के लिए जाने जाते हैं। लेकिन सेना की क्षमता पर सवाल चिदंबरम ने उठाए हैं इसलिए कांग्रेस बताए की क्या पार्टी की ऑफिशियल लाइन भी वही है।

Loading...

Leave a Reply