अयोध्या मामले पर SC का बड़ा फैसला, 2 अगस्त को खुली अदालत में सुनवाई

नई दिल्ली:  अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 2 अगस्त से इस मामले पर नियमित सुनवाई की जाएगी। सुप्रीम कोर्ट की पांच जजों की बेंच इसपर सुनवाई करेगी। वहीं दूसरी तरफ अयोध्या मामले पर बनी मध्यस्थता कमेटी से कहा गया है कि वो 31 जुलाई तक अपनी रिपोर्ट सौंप दें। पहले मध्यस्थता कमेटी का कार्यकाल 15 अगस्त तक था। लेकिन अब सुप्रीम कोर्ट ने उससे 31 जुलाई तक रिपोर्ट सौंपने को कहा है।

दरअसल ये बात बार बार कही जा रही थी कि मध्यस्थता किसी निश्चित दिशा में नहीं बढ़ रही है। इसलिए कोर्ट इस मामले में नियमित सुनवाई शुरु करे। जिसके बाद कोर्ट ने मध्यस्थता कमेटी को 31 जुलाई तक रिपोर्ट सौंपने के लिए कहा है। जिसके बाद 2 अगस्त से इस मामले पर नियमित सुनवाई शुरु की जाएगी।

पक्षकारों की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में कहा गया था कि अगर बातचीत के लिए और वक्त दिया गया तो ये केवल समय की बर्बादी होगी। कोर्ट ने पिछले सप्ताह की सुनवाई में ही कह दिया था कि अगर मध्यस्थता प्रक्रिया को जारी रखना जरुरी नहीं लगा तो 25 जुलाई से नियमित सुनवाई शुरु हो जाएगी।

सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली पांच जजों की संविधान पीठ ने सुप्रीम कोर्ट के रिटायर्ड जज जस्टिस कलीफुल्ली की अध्यक्षता में मध्यस्थता कमेटी का गठन किया था। ताकि अयोध्या मसले का हल आपसी बातचीत से निकाली जा सके। शुरुआत में कमेटी का कार्यकाल 8 हफ्ते रखा गया था। बाद में इसके कार्यकाल को बढ़ाकर 13 हफ्तों का कर दिया गया जो कि 15 अगस्त को पूरा हो रहा था। लेकिन अब उसे 31 जुलाई तक अपनी रिपोर्ट सुप्रीम कोर्ट में सौंपनी है।

(Visited 58 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *