Mahindra-and-Mahindra-deisel-car

बड़ी डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन से SC ने हटाई पाबंदी

बड़ी डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन से SC ने हटाई पाबंदी

दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट से बड़ी डीजल गाड़ियां बनाने वाली कंपनियां और इस तरह की गाड़ी खरीदने की इच्छा रखने वाले ग्राहकों के लिए राहत वाली खबर आई है। सुप्रीम कोर्ट ने 2000 CC से ज्यादा की डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन पर लगी पाबंदी हटा ली है। लेकिन इसपर 1 फीसदी का ग्रीन सेस लगा दिया है।

सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार की तरफ से कहा गया कि बड़ी डीजल गाड़ियों पर पाबंदी की वजह से सरकार का मेक इन इंडिया कार्यक्रम प्रभावित हो रहा है। काम बंद होने से लोगों को रोजगार नहीं मिल रहा है। इस तरह का गाड़ी बनाने के लिए कंपनियों ने काफी पैसों का निवेश किया है लेकिन गाड़ियां नहीं बनाने की वजह कंपनियों की चिंता बढ़ गई है। वहीं सुप्रीम कोर्ट में मर्सीडीज और टोयोटा की तरफ से कहा गया था कि बड़ी डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन पर बैन से काफी ज्यादा नुकसान हो रहा है। कंपनियों की तरफ से कोर्ट में ये दलील भी दी गई कि भारत में जो मानक लागू है उनकी गाड़ियां उसी के मुताबिक बनाई गई हैं। और उससे पर्यावरण को किसी तरह का खतरा नहीं है। इन सब दलीलों को सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने 2000 CC से ज्यादा क्षमता वाली डीजल गाड़ियों के रजिस्ट्रेशन की इजाजत दे दी है।
– Supreme Court Allows Above 2000cc Diesel Cars registration For Delhi

Loading...

Leave a Reply