करोड़ों के आमदनी वाले परिवार की MBBS टॉपर अब बनेंगी जैन भिक्षु

नई दिल्ली:  MBBS टॉपर रही हिना हिंगाड अब सांसारिक मोह माया को छोड़कर जैनधर्म में दीक्षा लेंगी। मुंबई की हिना ने बुधवार को सूरत में आध्यात्मिक गुरु आचार्य विजय यशोवर्मा सुरेश्वरजी महाराज से दीक्षा लेंगी। हिना की उम्र अभी महज 28 साल है और उनका ताल्लुक एक अरबपति परिवार से है।

अहमदनगर यूनिवर्सिटी में गोल्ड मेडलिस्ट हिना पिछले तीन सालों से प्रैक्टिस कर रही थीं। जब वो क्षात्र जीवन में थीं तभी से उनकी रूची अध्यात्म की तरफ हुई। यही वजह है कि हिंगाड परिवार की 6 बेटियों में सबसे बड़ी हिना हिंगाड को मेडिकल प्रोफेशन की जगह अध्यात्म ज्यादा पसंद आया।

हिना ने शुरुआत में जब अपने परिवारवालों से खुद के बारे में बताया कि वो अध्यात्म का रास्ता चुन रही रहीं तब वो राजी नहीं हुए। हिना के मुताबिक सांसारिक जीवन छोड़कर जैन भिक्षु बन जाना हर किसी के लिए संभव नहीं है। हिना ने बताया उनकी बहनें इसलिए उदास हैं क्योंकि वो उन्हें छोड़कर जा रही हैं। लेकिन इसके बाद भी वो उसके फैसला का समर्थन कर रही हैं।

हिना ने दीक्षा से पहले के 48 घंटे ध्यान की प्रक्रिया पूरी कर ली है। आचार्य विजय के मुताबिक, हिना ने अपने पिछले जन्म में किये गए ध्यान और श्रद्धा की वजह से जैन धर्म की दीक्षा लेना स्वीकार किया है।

Loading...