देशद्रोही बर्दाश्त नहीं: अब कश्मीर के पत्थरबाजों पर AK-47 से भी चलेगी गोली

नई दिल्ली:  कश्मीर के पत्थरबाजों को काबू में करने के लिए खास तैयारी की गई है। इसके लिए एक खास तरह की बुलेट ऑर्डिनेंस फैक्ट्री से तैयार करवाई गई है। इसकी खासियत ये है कि इसे चलाने के लिए खास वेपन की जरुरत नहीं होगी। बल्कि जवानों के पास जो बंदूक होगी उसी से वो इसे चला सकेंगे। इसे एके-47 से भी फायर किया जा सकेगा।

सीआरपीएफ के महानिदेशक ने इस बात की जानकारी दी। राजीव राय भटनागर ने बताया अभी हिंसक भीड़ को काबू में करने के लिए जिस गोली का इस्तेमाल किया जाता था उसके छर्रे लेड के होते थे। जिससे शरीर के अंगों को काफी नुकसान होता था। लेकिन अब ऑर्डिनेंस फैक्ट्री की तरफ से तैयार इस गोली का इस्तेमाल किया जाएगी। खासबात ये है कि इसमें प्लास्टिक के छर्रे का इस्तेमाल किया गया है। जो इंसान के शरीर पर लगने के बाद उसे बेचैन तो करेगी लेकिन उसके अंगों को नुकसान नहीं होगा।

कश्मीर में इन गोलियों की एक खेप भेजी भी जा चुकी है। और जल्द ही इसे इस्तेमाल में भ लाया जाएगा। इन गोलियों की बाकी खेप भी जल्द ही भेजी जाएगी। दरअसल पैलेट गन के विकल्प के तौर पर इसे तैयार किया गया है। सीआरपीएफ के महानिदेशक ने कहा कि हिंसा करनेवालों से सख्ती से निपटा जाएगा।

हलांकि पैलेट गन का इस्तेमाल बंद करने के बाद रबर की गोली का इस्तेमाल किया जाता था। लेकिन वो उतनी कारगर नहीं हो रही थी। इसलिए इसबार प्लास्टिक के छर्रों वाली गोली तैयार की गई है। जिसमें लेड की जगह प्लास्टिक के छर्रे इस्तेमाल किये गए हैं।

Loading...

Leave a Reply