वाराणसी में सपा-कांग्रेस ने सड़क पर दिखाया दम, रोड शो में डिंपल भी रहीं साथ

वाराणसी:  यूपी विधानसभा चुनाव के अंतिम चरण में वाराणसी में वोटिंग होगी। 8 मार्च को होनेवाली वोटिंग के लिए वाराणसी की सड़कें शनिवार को अलग अलग राजनीतिक दलों के झंडों से सजी रही। पहले बीजेपी की तरफ से पीएम मोदी ने अपना रोड शो किया। उसके बाद समाजवादी पर्टी-कांग्रेस गठबंधन ने अपना रोड शो शुरु किया।

सपा-कांग्रेस ने अपने रोड शो की शुरुआत वाराणसी के कचहरी के पास अंबेडकर की प्रतिमा को माला पहनाकर शुरु किया। 8 किलोमीटर लंबे इस रोड शो के शुरआत में सीएम अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव शामिल नहीं हुई थीं। डिंपल बाद में दोशिपुर में रोड शो में शामिल हुईं। वाराणसी में सपा ने 2 और कांग्रेस ने 3 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं।

अखिलेश-राहुल का रोड शो वरुणा पुल, नदेसर, घौसाबाद, चौकाघाट, गोलगड्डा, पीलीकोठी, विशेश्वरगंज, मैदागिन चौराहा से गुजरते हुए गोदौलिया, गिरजाघर चौराहे तक जाएगा। यानि अखिलेश-राहुल का रोड शो शहर की तीनों विधानसभा सीटें उत्तरी, दक्षिणी और कैंट को कवर करेगा। अखिलेश राहुल के इस रोड शो के दौरान चौका घाट के पास बीजेपी और एसपी कार्यकर्ताओं के बीच पत्थरबाजी भी हुई।

अखिलेश-राहुल के इस रोड शो का खाका पूरी तरह से चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने तैयार किया है। दरअसल जिस तरह से वाराणसी की सड़कों पर शनिवार को सियासी सरगर्मी दिखाई दी उसके बाद ये कहना गलत नहीं होगा कि वाराणसी बीजेपी और सपा-कांग्रेस गठबंधन के लिए अपनी-अपनी प्रतिष्ठा की सीट बन गई है। दोनों पार्टी के नेता वाराणसी बचाने में लगे हैं। शायद यही वजह है कि पीएम मोदी ने खुद वाराणसी में मोर्चा संभाला हुआ है। अगले तीन दिनों तक पीएम मोदी वाराणसी में अपना चुनावी कार्यक्रम करेंगे।

Loading...