SONU NIGAM FATWA

फतवा के बाद सोनू निगम ने मुंडवाया सिर, लेकिन 10 लाख देने से मुकर गए मौलाना

फतवा के बाद सोनू निगम ने मुंडवाया सिर, लेकिन 10 लाख देने से मुकर गए मौलाना

नई दिल्ली:  मस्जिद में अजान के वक्त लाउडस्पीकर के इस्तेमाल को गुंडागर्दी बताने के सोनू निगम के बयान के बाद उनके खिलाफ फतवा जारी किया गया था। उस फतवे के जवाब में सोनू निगम ने अपना सिर मुंडवा लिया। लेकिन फतवा जारी करने वाले पश्चिम बंगाल अल्पसंख्यक यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद शाह आतेफ अली कादरी सोनू का सिर मुंडने वाले को 10 लाख रुपये देने से इनकार कर दिया।

कादरी का कहना था कि हमने तीन बातें कही थी। जिसमें से सोनू निगम ने केवल एक चीज को पूरा किया है। अभी उन्हें पुराने जूतों की माला पहननी है और देश भर में घूमना भी होगा। इसके बाद ही उन्हें या उनसे ऐसा करवाने वाले को 10 रुपये देने पर विचार करुंगा। साथ ही कादरी ने कहा कि उन्हें इस बात के सबूत भी देने होंगे कि वो (सोनू निगम) देशभर में कितने करोड़ लोगों के घरों में घूमे।

सिर मुंडवाने से पहले सोनू निगम ने एक प्रेस कांफ्रेंस की थी। जिसमें उन्होंने कहा था कि मेरी बात का बतंगड़ बनाया जा रहा है। उसे बढ़ा चढ़ाकर दिखाया जा रहा है। मेरे हिसाब से मस्जिद पर लाउडस्पीकर लगाना गुंडागर्दी है। हलांकि सोनू निगम ने मंदिर और गुरुद्वारे का भी नाम लिया था। प्रेस कांफ्रेंस में सोनू निगम ने कहा रफी साहब मेरे पिता समान रहे हैं। मेरे गुरु, मेरे आसपास रहनेवाले लोग मुसलमान है। मेरे हिसाब से धार्मिक स्थल पर लाउडस्पीकर जरुरी नहीं है। मैं धर्मनिरपेक्ष हूं।

इसे भी पढ़ें

बाबरी केस में आडवाणी, जोशी, उमा समेत 10 पर चलेगा आपराधिक केस, SC का फैसला

इसे भी पढ़ें

सोनू निगम के खिलाफ फतवा, जूते की माला पहनाने वाले को 10 लाख का इनाम

सोनू निगम ने उन लोगों पर भी निशाना साधा जो लोग केवल सोशल साइट्स पर बड़ी बड़ी बातें करते हैं। सोनू निगम ने कहा मुझे ये मुद्दा सही लगा इसलिए मैंने ये बात कही। अगर उनमें दम हो तो वो भी ऐसी बात बोलकर दिखाएं।

इसे भी पढ़ें

मोदी के किस मंत्री ने सबसे पहले अपनी गाड़ी से खुद हटाई लाल बत्ती

दरअसल पश्चिम बंगाल अल्पसंख्यक यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद शाह आतेफ अली कादरी ने फतवा जारी करते हुए कहा था यदि कोई व्यक्ति सोनू निगम का सिर मुंडवाएगा, फटे जूतों की माला पहनाएगा और पूरे देश में घुमाएगा तो वे उसे अपने पास से 10 लाख रुपये का इनाम देंगे। कादरी ने कहा किसी को भी दूसरे धर्म के लोगों की भावना को आहत करने का अधिकार नहीं है। यदि मंदिर के बारे में भी कोई इस तरह की बात करता तो ऐसे ही वो प्रतिक्रिया देते। कादरी ने आगे कहा गायक सोनू निगम ने धर्मनिरपेक्ष भारतीय संविधान का अपमान किया है और उन्हें देश से बाहर निकाल दिया जाना चाहिए।

 

 

Loading...

Leave a Reply