सिंगर नहीं गैंग्सटर थी हर्षिता दहिया, पुलिस के साथ एनकाउंट में गिरफ्तार भी हुई थी

नई दिल्ली:  हरियाणा के पानीपत में हुए हर्षिता दहिय मर्डर केस एक हाई प्रोफाइल केस है। हलांकि उसकी हत्या करवाने की बात उसके जीजा दिनेश ने पुलिस पूछताछ में कबूल कर ली है। लेकिन पुलिस ने भी हर्षिता के बारे में एक चौंकानेवाला खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक हर्षिता अपनी मां की मौत और अपने साथ हुए रेप का बदला लेने के लिए गैंग्सटर बनी थी। हर्षिता खतरनाक गैंग्सटर रविंद्र पुगथला के गैंग में शामिल हुई थी। चुकी हर्षिता की जान को भी खतरा था इसलिए वो रविंद्र गैंग के ही एक सदस्य शक्ति के साथ रहती थी। 2 मई 2016 को सोनीपत सीआईए टीम ने हर्षिता को उसके दो साथियों के साथ गिरफ्तार किया था। हर्षिता के पास से अवैध हथियार भी बरामद हुए थे।

सोनीपत पुलसि के सीआईए स्टाफ के इंस्पेक्टर ने भी इस बात की पुष्टि की है। इंस्पेक्टर इंदीवर ने बताया कि मई 2016 में रविंद्र पुगथला को सोनीपत के कामी रोड पर गिरफ्तार करने गई पुलिस टीम के साथ हर्षिता दहिया और उसके गैंग के लोगों का एनकाउंटर हुआ था। जिसमें पुलिस ने हर्षिता को दो साथियों के साथ गिरफ्तार किया था। उसके पास से हथियार भी मिले थे।

लेकिन हर्षिता ने कोर्ट में इस मामले में नाबालिग होने का प्रमाण पत्र पेश किया था। जिसके बाद उसे जमानत मिल गई थी। हर्षिता का साथी अभी भी जेल में है जबकि हर्षिता जमानत पर बाहर थी। सोनीपत सीआईए और एसआईटी की टीम ने 10 फरवरी 2017 को एनकाउंटर में मार गिराया था।

हलांकि अब ये साफ हो चुका है कि हर्षिता की हत्या जेल में बंद उसके जीजा दिनेश ने करवाई थी। दिनेश दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद है। हरियाणा पुलिस ने उसे चार दिन के रिमांड पर लेकर पूछताछ की थी। जिसमें उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

Loading...