शाहरुख के CA का दावा जाली दस्तावेज से खरीदी गई खेती की जमीन

शाहरुख के CA का दावा जाली दस्तावेज से खरीदी गई खेती की जमीन

मुंबई:  मुंबई से कुछ दिनों पहले एक्टर शाहरुख खान को लेकर एक बड़ी खबर आई थी। जिसमें कहा गया था कि मुंबई के अलीबाग में बना फार्म हाउस अवैध है। यहां बने बंगले पर आयकर विभाग ने कार्रवाई भी की थी। उसके बाद अब शाहरुख के सीए ने एक बड़ा दावा किया है। सीए ने कहा है कि उस जमीन को खरीदने में फर्जी कागजात का सहारा लिया गया था।

शाहरुख पर आरोप है कि उन्होंने खेती की जमीन पर आलीशान बंगला बनवा लिया है। शाहरुख के सीए मोरेश्वर अजगांवकर ने आयकर विभाग को बताया है कि शाहरुख के कहने पर उन्होंने जाली दस्तावेज का सहारा लेकर जमीन खरीदी थी।

टीवी टुडे की वेबसाइट पर छपी खबर के मुताबिक आयकर विभाग के अधिकारियों ने बताया है कि सीए मोरेश्वर अजगांवकर ने बताया कि वो केवल शाहरुख के आदेशों का पालन कर रहे थे। आयकर अधिकारियों के मुताबिक अजगांवकर ने पूछताछ में माना है कि उन्होंने जाली दस्तावेजों और 7/12 एक्सट्रैक्ट का इस्तेमाल शाहरुख के कहने पर किया। 7/12 एक्सट्रैक्ट राज्य के राजस्व का होता है। जिसमें जमीन खरीदने की तारीख, मालिक का नाम, एरिया, जमीन का प्रकार और दूसरी जरूरी बातें लिखी होती हैं।

जाली दस्तावेज में दिखाया गया है कि जमीन पर बना बंगला 1991 से पहले से था। जबकि 2003 के गूगल अर्थ सैटेलाइट में वहां पर कोई बंगला नहीं दिख रहा है। शाहरुख की कंपनी देजा वू फार्म्स ने कंपनी रजिस्ट्रार के सामने दिखाया कि बंगले में 16 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है। जबकि आयकर विभाग का अनुमान है कि बंगले के निर्माण में तकरीबन 50 करोड़ रुपये खर्च किये गए।

जानकारी के मुताबिक 2004 में डेजा वू फार्म्स प्राइवेट लिमिटेड नाम की कंपनी के जरिये ये जमीन खरीदी गई। कहा गया था कंपनी इस जमीन पर खेती और खेती के विकास का काम करेगी। लेकिन 2004 से लेकर अबतक कंपनी की तरफ से इस जमीन पर एक पैसे का भी खेती का काम नहीं किया गया।

खेती के नाम पर खेती की जमीन पर किये गए इस फर्जीवाड़े का खुलासा पर्यावरणविद सुरेंद्र धवले ने किया था। उन्होंने ठाणे के खार पुलिस स्टेशन में लिखित में इसकी शिकायत की थी। इसके मुताबिक शाहरुख और उनकी पत्नी ने जमीन के लिए फर्जीवाड़ा किया। इस फर्जीवाड़े का खुलासा शाहरुख के जन्मदिन के कुछ दिन बाद हुआ। जन्मदिन के दिन शाहरुख ने अलीबाग वाले बंगले पर शानदार पार्टी दी थी। जिसके बाद एक एमएलसी से उनका विवाद हो गया। जिसके बाद ये मामला सामने आया।

Loading...