sangeeta

शर्मनाक: संगीता गंभीर दर्द से तड़पती रही और ओलंपिक संघ के अधिकारी जश्न मनाते रहे

शर्मनाक: संगीता गंभीर दर्द से तड़पती रही और ओलंपिक संघ के अधिकारी जश्न मनाते रहे

नई दिल्ली:  एशियन एथलेटिक चैंपियनशिप के समापन पर ओडीशा सरकार की तरफ से बधाई समारोह का आयोजन किया गया था। भारतीय एथलेटिक संघ के अधिकारी समारोह की तरफ निकल गए थे। लेकिन उनकी टीम की एक खिलाड़ी होटल के कमरे में गंभीर रूप से घायल होकर दर्द से तड़पती रही। भारत की पोल वोल्ट खिलाड़ी कुमारी संगीता अपने प्रदर्शन के दौरान गंभीर रूप से घायल हो गईं। उनके घुटने में गंभीर चोट आई। इसके बाद उनके साथ जो कुछ उसकी उम्मीद उन्होंने नहीं की थी।

हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक एशियन गेम में चीन को मात देते हुए भारत ने हर प्रतिस्पर्धा में अपना सिक्का जमाया। उसी प्रतियोगिता के दौरान संगीता घायल हो गई। संगीता रविवार शाम को घायल हुई थी। लेकिन सोमवार सुबह तक उनका हाल चाल पूछने के लिए कोई अधिकारी नहीं आए। संगीता होटल में अपने कमरे में मन ही मन घुटती रही। दर्द से तड़पती रही।

sangeeta
Image- HT

जिस होटल में ओडीशा सरकार की तरफ से सम्मान समारोह रखा गया था उसी होटल में ओलंपिक संघ के अधिकारी भी ठहरे थे और उसी होटल में संगीता भी ठहरी थीं। लेकिन किसी को भी इस घायल खिलाड़ी की परवाह नहीं थी। संगीता का इलाज कर रही मेडिकल ऑफिसर सिबानी त्रिपाठी से जब संगीता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा संगीता को थर्ड डिग्री की इंजुरी हुई है। इसे ठीक करने के लिए ऑपरेशन की जरुरत है। लेकिन उन्हें ये पता नहीं था कि संगीता का ऑपरेशन ओडीशा में होगा या फिर पटियाला में। ऐसा इसलिए क्योंकि संगीता नेशनल कैंप में रह रही हैं।

नेशनल कोच राधाकृष्णन नायर ने कहा सभी महिला मैनेजर या तो वापस जा चुके हैं या फिर जाने की तैयारी में अपना सामान बांध रहे हैं। नायर से जब घायल संगीता के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कह दिया उन्हें इसके बारे में कोई जानकारी नहीं है।

कोच ने बताया कि अगर खिलाड़ी का इंश्योरेंस हुआ होता है तो उस हालत में उसका सारा खर्च सराकर वहन करती है। लेकिन इंश्योरेंस नहीं होने की सूरत में खिलाड़ी को खुद ही अपना खर्च वहन करना पड़ता है। उन्होंने आगे कहा संगीता ने 10 दिन पहले ही नेशनल कैंप ज्वाइन किया था। इसलिए इसकी उम्मीद कम है कि उसे इंश्योंरेंस कवर मिलेगा।

एशियन गेम के बाद 13 जुलाई को संगीता तो बाकी एथलीट के साथ गुंटूर के लिए रवाना होना था। जहां इंटर स्टेट चैंपियनशिप में उन्हें शामिल होना था। लेकिन संगीता के घायल होने के बाद उसके लिए सोमवार सुबह तक किसी तरह का इंतजाम नहीं किया गया। इस बारे में किसी को पता नहीं था कि संगीता की वापसी आखिर किस तरह से होगी।

हलांकि राधाकृष्णन नायर ने कहा रविवार होने की वजह से संगीता के लिए अलग से टिकट का इंतजाम नहीं हो सका। लेकिन अब उसके लिए इंतजाम किया जाएगा।

संगीता जिस ओलंपिक संघ के अधिकारियों के साथ एशियम गेम्स में शामिल होने गई थी उसके अधिकारियों के निकम्मेपन का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि संगीता शाम के तकरीबन 5 बजे के करीब अपने दूसरे अटेंप्ट में घायल हुई थी। लेकिन उन्हें तीन घंटे बाद अस्पताल पहुंचाया गया।

Loading...

Leave a Reply