यूपी में कांग्रेस-SP गठबंधन की उम्मीद खत्म, कांग्रेस ने ठुकराया 99 सीटों का ऑफर!




लखनऊ: उत्तर प्रदेश में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस के बीच गठबंधन की उम्मीद खत्म हो चुकी है। सूत्रों के मुताबिक समाजवादी पार्टी की तरफ से कांग्रेस को 99 सीटों का ऑफर दिया गया था। लेकिन गठबंधन की बात कर रहे कांग्रेसी नेताओं ने इसे ठुकरा दिया। इसके बाद अखिलेश यादव ने कहा अगर 99 सीट मंजूर नहीं है तो फिर गठबंधन मुश्किल है।

सीएम अखिलेश यादव की तरफ से कांग्रेस के सामने 84+ 15 यानि 99 सीट देने का प्रस्ताव रखा गया था। साथ ही अखिलेश की तरफ से ये भी कहा था कि अगर 84 सीटों पर उम्मीदवार उतारने के बाद कांग्रेस के पास उम्मीदवारों की कमी होती है तो वो कांग्रेस के नाम पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार को उतारने के लिए तैयार हैं।

लेकिन सूत्र जो बता रहे हैं उसके मुताबिक कांग्रेस 120 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती थी। यही वजह है कि अब सपा और कांग्रेस में गठबंधन की उम्मीद खत्म हो चुकी है। गठबंधन बनने से पहले टूटने की एक वजह ये भी बताई जा रही है कि कांग्रेस के किसी बड़े नेता की तरफ से इसपर गंभीरता नहीं दिखाई गई। अखिलेश यादव ने प्रियंका गांधी वाड्रा से बात जरुर की गठबंधन को लेकर लेकिन बाद में राहुल या सोनिया की तरफ से इसपर कोई गंभीरता नहीं दिखाई गई।

कांग्रेस की तरफ से गठबंधन की बात के लिए अपने किसी रणनीतिकार या फिर राज्य स्तर के किसी नेता को लगाया गया। जबकि समाजवादी पार्टी की तरफ से खुद अखिलेश यादव गठबंधन के लिए बातचीत कर रहे थे। कुछ दिन पहले अखिलेश ने एक सार्वजनिक मंच पर कहा भी था कि हम अपने दम पर राज्य में सरकार बना सकते हैं लेकिन अगर कांग्रेस का साथ मिल जाता है तो हमारी सीट का आंकड़ा 300 के पार हो सकता है।

कांग्रेस के कई संभावित उम्मीदवार भी चाह रहे थे कि समाजवादी पार्टी के साथ अगर गठबंधन होता है तो उनकी जीत की संभावना ज्यादा होगी। क्योंकि यूपी में कांग्रेस इस स्थिति में दिखाई नहीं दे रही है कि वो केवल अपने दम पर अपने उम्मीदवारों को जिता सके। लेकिन गठबंधन की उम्मीद खत्म होने के बाद अब उन कयासों पर भी विराम लग गया है।

Loading...