मोदी सरकार से टकराव के बीच RBI गवर्नर उर्जित पटेल ने दिया इस्तीफा

गोड्डा/झारखंड: RBI के गवर्नर उर्जित पटेल ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। उर्जित पटेल ने जारी बयान में कहा है कि वो निजी कारणों से इस्तीफा दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि ये उनके लिए सम्मान की बात थी कि वो कई वर्षों तक अलग-अलग भूमिका में RBI के साथ जुड़े रहे। उर्जित पटेल का कार्यकाल सितंबर 2019 तक था। लेकिन 9 महीने पहले ही उन्होंने इस्तीफा दे दिया।

उर्जित पटेल ने अपने इस्तीफे में लिखा है मैंने व्यक्तिगत वजह से अपने पद से इस्तीफा देने का फैसला किया है। जो तत्काल प्रभाव से लागू होगा। यह मेरे लिए गर्व की बात है कि मैंने RBI में अलग अलग पदों पर काम किया।

हाल ही में केंद्रीय बैंक गवर्नर और केंद्र सरकार के बीच स्वायत्तता को लेकर विवाद खड़ा हुआ था। लेकिन सबसे बड़ा विवाद केंद्र सरकार की तरफ से आरबीआई के पास पड़े सिक्योरिटी डिपॉजिट की मांग करने पर खड़ा हुआ। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक केंद्र सरकार RBI से सिक्योरिटी डिपॉजिट से और अधिक हिस्से की मांग कर रही थी।


उर्जित पटेल के इस्तीफे पर कांग्रेस ने मोदी सरकार को घेरा है। कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने ट्वीट किया जिस तरह से RBI के गवर्नर पर इस्तीफा देने के लिए दबाव बनाया गया वो भारत की मौद्रिक और बैंकिंग सिस्टम पर दाग है। बीजेपी सरकार ने वित्तीय आपातकाल को उजागर किया है। अब देश की प्रतिष्ठा और विश्वसनीयता दांव पर है।


वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि सरकार उर्जित पटेल के आरबीआई डिप्टी गवर्नर और गवर्नर दोनों रुपों में की गई देश की सेवा के लिए प्रशंसा करती है। मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।

(Visited 24 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *