वाड्रा लैंड डील में हुई गड़बड़ी, वाड्रा और पूर्व CM हुड्डा पर भी FIR की सिफारिश

हरियाणा: जमीन सौदों में काफी चर्चित रहा है हरियाणा का रॉबर्ट वाड्रा लैंड डील। हरियाणा में जमीन का ये सौदा तब हुआ था जब वहां कांग्रेस की सरकार थी और भूपेंद्र सिंह हुड्डा उस सरकार के मुखिया थे। आरोप ये था कि सोनिया गांधी के दामाद और प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी स्काइलाइट के नाम हरियाणा की बेशकीमती जमीन को कौड़ी के भाव पर बेच दिया गया। इसी गड़बड़ी की जांच के लिए जस्टिस ढींगरा की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाई गई थी। जिसने अपने रिपोर्ट बुधवार को हरियाणा की खट्टर सरकार को सौंप दी।

जस्टिस ढींगरा ने खुद इस बात का जिक्र किया कि जमीन सौदे में गड़बड़ी हुई है। ढींगरा ने तो इसके अलावे और कुछ नहीं कहा लेकिन सूत्र बताते हैं कि इस रिपोर्ट में रॉबर्ट वाड्रा की कंपनी और तब के सीएम रहे भूपेंद्र सिंह हुड्डा के खिलाफ FIR दर्ज करने की सिफारिश की गई है। रिपोर्ट में ये बताया गया है कि किस तरह से पहले करोड़ों की जमीन को कौड़ियों के भाव पर बेच गया फिर उसका सीएलयू कर उसकी कीमत करोड़ों में पहुंचा दी गई। जस्टिस ढींगरा ने 182 पन्नों की रिपोर्ट खट्टर सरकार को सौंपी है। इसपर जस्टिस ढींगरा ने कहा कि अगर जमीन सौदे में गड़बड़ी नहीं होती तो 182 पेज की रिपोर्ट तैयार करने की कोई वजह नहीं थी। इस रिपोर्ट में सरकार और प्राइवेट दोने व्यक्तियों का जिक्र है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कानून को ताक पर रखकर प्रभावशाली लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए मनमाने तरीके से जमीन के सौदे किये गए।

इस रिपोर्ट पर कांग्रेस का कहना है कि सरकार को रिपोर्ट सौंपने से पहले ही रिपोर्ट लीक कर दी गई। ये सबकुछ व्यक्ति विशेष की छवि को खराब करने के लिए किया गया। बदले की भावना से व्यक्ति विशेष को निशाना बनाने के लिए समिति बनाई गई। और फिर उस रिपोर्ट के कुछ हिस्से को लीक कर दिया गया। कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि वो हिरयाणा सरकार से मांग करेंगे की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग करते हैं।

Loading...

Leave a Reply