2000, 500 और 200 के नोट बदलने के लिए RBI ने जारी किये नए नियम

नई दिल्ली:  अब आपको 200 और 2000 के नए नोट के लेनदेन में खास सावधानी बरतनी होगी। क्योंकि RBI पुराने, कटे-फटे नोट को बदलने के लिए नियम जारी कर दिया है। इस नियम की खासबात ये है कि अगर 200 और 2000 के नोट हल्के कटे फटे हैं तो उसकी पूरी कीमत मिलेगी लेकिन अगर नोट ज्यादा कटे फटे रहेंगे तो उसकी आधी कीमत मिलेगी। यहां ये भी संभव है कि कोई कीमत मिले ही नहीं।

RBI ने कटे-फटे नोट को बदलने के लिए अपने नियमों में संशोधन किया है। इस नए नियम के बाद महात्मा गांधी वाली सीरीज के 200 और 2000 के नोट को बदलने को लेकर लोगों के मन में जो शंका थी वो भी खत्म कर दी गई है।

बदलने के साफ नियम न होने की वजह से लोगों को भी दिक्कत हो रही थी। इन 200 और 2000 के नोटों को नवंबर 2016 और सितंबर 2017 में जारी किया गया था। नोटों का आकार अलग होने की वजह से इन्हें पुराने नियम के तहत नहीं बदले जा सकते थे। RBI ने 2009 के नोट रिफंड नियम में संशोधन किया और ये साफ किया कि महात्मा गांधी सीरीज के नए नोट इस नए नियम के तहत बदले जा सकेंगे।

भारत का राजपत्र से लिया गया स्क्रीन शॉट

संशोधित नियम के मुताबिक अगर 2000 के नोट रिफंड के बाद पूरी कीमत के लिए ग्राहक को नोट के वास्तविक आकार का कम से कम 88 वर्ग सेंटीमीटर का हिस्सा देना होगा। लेकिन 44 वर्ग सेंटीमीटर हिस्सा लौटाने पर नोट की आधी कीमत मिलेगी। वहीं 200 रुपये के नोट पर पूरी कीमत लेने के लिए वास्तविक आकार का कम से कम 78 सेंटीमीटर और आधी कीमत के लिए 39 वर्ग सेंटीमीटर हिस्सा देना अनिवार्य होगा।

इस सीरीज के बाकी नोटों के लिए भी नियम तय है। जिसके तहत 100 रुपये के नोट पर पूरी कीमत के लिए 75 सेंटीमीटर और आधी कीमत के लिए 38 सेंटीमीटर हिस्सा देना जरुरी होगा। 50 रुपये के नोट पर पूरी कीमत के लिए 72 वर्ग सेंटीमीटर और 36 सेंटीमीटर देने पर आधी कीमत मिलेगी।

(Visited 10 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *