रामनाथ कोविंद होंगे देश के 14वें राष्ट्रपति, जानिये उनके वोटों का गणित

नई दिल्ली: राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की जीत हुई है। रामनाथ कोविंद ने यूपीए की उम्मीदवार मीरा कुमार को दोगुने से भी ज्यादा वोटों से हाराया। कोविंद को 66 फीसदी वोट मिले जबकि मीरा कुमार को केवल 34 फीसदी वोट मिले। कोविंद राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए 5,52,243 वोटों की जरुरत थी। लेकिन उन्हें कुल 10,98,903 वोटों में से 7,02044 वोट मिले। जबकि यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार को 36,7317 वोट मिले।

रामनाथ कोविंद के पक्ष में 522 सांसदों ने वोट दिया। जबकि 225 सांसदों ने मीरा कुमार के पक्ष में वोट दिया। 21 सांसदों के वोट खारिज हो गए। गोवा और गुजरात में एनडीए के पक्ष में क्रॉस वोटिंग भी हुई। रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। रामनाथ कोविंद की जीत की खुशी में जश्न की भी तैयारी की गई है।

राष्ट्रपति चुनाव में जीत के बाद रामनाथ कोविंद ने कहा राष्ट्रपति भवन में वो गरीबों का प्रतिनित्व करेंगे। उन्होंने कहा बड़ी जिम्मेदारी का एहसास हो रहा है। बचपन की यादें आ रही हैं जब मैं पैत्रिक गांव में रहा था। फूस से बनी घर में सभी भाई बहन बारिश से बचने के लिए दीवार से सटकर एक कोने में खड़े हो जाते थे। और बारिश के रुकने का इंतजार करते थे। क्योंकि फूस की छत तेज बारिश को सह नहीं पाती थी। देश में मेरे जैसे कई रामनाथ कोविंद को जो शाम में भोजन मिल जाए इसके लिए जीतोड़ मेहनत करते हैं। आज मुझे उनसे कहना है कि प्रोढ़ का गांव प्रतिनिधि राष्ट्रपति बनकर राष्ट्रपति भवन में जा रहा है। इस पद के लिए चुने जाने के बारे में कभी सोचा नहीं था। अपने समाज के प्रति काम को लेकर यहां तक पहुंचा हूं। देश के सभी लोगों को नमन करते हुए देश सेवा का संकल्प लेता हूं। सभी प्रतिनिधियों को धन्यवाद करता हूं।

Loading...