गंदे बदबूदार नाले में गिर गया राम रहीम, लोगों ने बाहर निकाला

नई दिल्ली:  अदालत से 20 साल की सजा मिलने के बाद अब राम रहीम से लोगों का विश्वास भी खत्म  होने लगा है। जबतक राम रहीम के कुकर्मों का खुलासा नहीं हुआ था और वो आजाद घूम रहा था तो लोग उसे भगवान की तरह पूजते थे। लेकिन जब अदालत ने उसे दो साध्वियों से बलात्कार के मामले में 20 साल की सजा सुनाई तो राम रहीम का असली रूप दुनिया के सामने आया।

25 अगस्त को राम रहीम पर पंचकूला में सीबीआई कोर्ट ने अपना फैसला सुनाया। उसके बाद से उस पाखंडी राम रहीम के डेरे, उसकी गुफा और उससे जुड़े कई राज सामने आ चुके हैं। जिस तरह के खुलासे रोजाना हो रहे हैं उसके बाद अब उसपर से लोगों का विश्वास भी खत्म होने लगा है। राजस्थान के श्रीगंगानगर में इसी का एक नमूना देखा गया।

ram rahim

राजस्थान के श्रीगंगानगर में ही राम रहीम का जन्म हुआ था। यहां उसका पुश्तैनी घर भी है। जिसे एक किले की तरह बनाया गया है। बताया जा रहा है उसके जेल जानने के बाद से उसके परिवार के बाकी लोग इसी घर में पहुंच चुके हैं। उसी गंगानगर के लोगों ने भी उसे भगवान की तरह पूजा था। लेकिन अब उन्हें ये समझ आ रहा है कि जिस राम रहीम को वो भगवान मान रहे थे वो एक शैतान से भी गिरा हुआ इंसान है।

श्रीगंगानगर में लोग राम रहीम की तस्वीर को नालियों में फेंक रहे हैं। वहां की कई नालियों में राम रहीम की तस्वीर गिरी हुई देखी गई है। कई जगहों पर लोग उसकी तस्वीर को पैरों तले रौंद रहे हैं। दरअसल ये लोगों का गुस्सा है। उनका जो भरोसा टूटा है ये उसी की प्रतिक्रिया है। उन्हें ये लग रहा है कि उनके साथ किसी ने बहुत बड़ा धोखा कर दिया। यही नहीं लोगो अब उस गांव का नाम भी बदलने की मांग कर रहे हैं जिसका नाम राम रहीम ने अपनी मां के नाम पर रखा था।

Loading...