CBI ने राम रहीम से जेल में पूछा ‘400 साधुओं को नपुंसक क्यों बनाया?’ मिला ये जवाब

CBI ने राम रहीम से जेल में पूछा ‘400 साधुओं को नपुंसक क्यों बनाया?’ मिला ये जवाब

नई दिल्ली:  राम रहीम से सीबीआई ने रोहतक के सुनारिया जेल में तकरीबन 4 घंटे तक पूछताछ की। सीबीआई की पूछताछ उन 400 साधुओं को लेकर थी जिसमें उन्हें नपुंसक बनाने का आरोप राम रहीम पर लगा है। सीबीआई ने राम रहीम से पूछा कि उन्होंने डेरा में रहनेवाले साधुओं को नपुंसक क्यों बनाया। इसके जवाब में राम रहीम ने कहा उसने किसी को नपुंसक नहीं बनाया और ये झूठे आरोप उसपर लगाए जा रहे हैं।

राम रहीम के इस जवाब के बाद सीबीआई ने जब राम रहीम से पूछा कि उनके खिलाफ कौन साजिश कर रहा है। तो इसपर राम रहीम ने कोई भी संतोष जनक जवाब नहीं दिया। राम रहीम पर डेरा के पूर्व सेवादार ने ही ये आरोप लगाया था कि उसने उसे नपुंसक बनाया। पूर्व सेवादार का आरोप था कि राम रहीम ने तकरीबन 400 लोगों को धोखे से ऑपरेशन करवाकर नपुंसक बनाया था।

सूत्रों के मुताबिक सीबीआई की टीम मंगलवार को सुबह तकरीबन 11 बजे रोहतक के सुनारिया जेल पहुंची थी। सीबीआई की टीम जबतक वहां रही किसी को भी जेल में प्रवेश नहीं करने दिया गया। सीबीआई की टीम तकरीबन 4 घंटे तक राम रहीम पर 400 साधुओं को नपुंसक बनाने और पत्रकार हत्या के बारे में पूछताछ की। सूत्रों के मुताबिक राम रहीम ने सीबीआई की पूछताछ में सहयोग नहीं किया। इसलिए इस बात की भी संभावना जताई जा रही है कि उससे दोबारा भी पूछताछ हो सकती है।

जिन लोगों को नपुंसक बनाया गया था उनकी ड्यूटी राम रहीम अपनी गुफा में लगवाता था। उनपर साध्वियों की देखभाल की जिम्मेदारी सौंपी जाती थी। राम रहीम दो साध्वियों के साथ रेप के आरोप में 25 अगस्त से जेल में बंद है। उसे 20 साल की सजा सुनाई गई है। राम रहीम को सीबीआई की विशेष अदालत ने सजा सुनाई है। सीबीआई अदालत के फैसले के खिलाफ राम रहीम ने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में अपील की है। जिसे कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है।

Loading...

Leave a Reply