समधी और दामाद ने राम रहीम से माफी मांगकर बचाई थी अपनी जान, Video

नई दिल्ली:  राम रहीम के दामाद विश्वास गुप्त ने जब अपने ससुर यानि राम रहीम को अपनी ही मुंह बोली बेटी के साथ हम बिस्तर होते देखा तो उन्होंने किसी तरह से पहले पंचकूला के डेरा को छोड़ा। विश्वास गुप्ता और उनके पिता पंचकूला में ही किराये के मकान में रहने लगे। उसके बाद उन्होंने पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की। जिसमें उन्होंने राम रहीम के कब्जे से पत्नी को मुक्त कराने की मांग की थी। जिस पर कोर्ट ने हरियाणा के डीजीपी को एक्शन का निर्देश दिया था।

लेकिन इसके बाद दोनों पिता और पुत्र पर राम रहीम के गुंडों की टेढ़ी नजर पड़ गई। दोनों को रोजाना धमकी मिलने लगी। कोर्ट ने 2011 में केस दायर कर लिया था। इस बीच 2014 में डेरा सच्चा सौदा के परिसर में विश्वास गुप्ता और उनके पिता को पेश किया गया। दोनों ने हाथ जोड़कर गुरमीर राम रहीम से माफी मांगी।

इसे भी पढ़ें

राम रहीम के दामाद ने खोला बड़ा राज, बोला बाबा के बिस्तर पर रहती है मेरी पत्नी

उन्होंने कहा कि डेरा विरोधियों और पंजाब के कुछ सत्संग वालों के बहकावे में आकर उनके खिलाफ शिकायत की। बताया जाता है कि एक तरफ तो राम रहीम के गुंडे उन्हें धमकी दे रहे थे दूसरी तरफ प्रशासन की तरफ से भी उनके परिवार पर दबाव बनाया जा रहा था। जिसकी वजह से गुप्ता परिवार की हिम्मत जवाब दे गई। इस हालात में गुप्ता परिवार ने माफी मांगने में ही अपनी भलाई समझी।

आप देखिये वो वीडियो जिसमें विश्वास गुप्ता और उनके पिता राम रहीम के सामने गिड़गिड़ा रहे हैं।

Loading...

Leave a Reply