नाम पाकिस्तान है हरकतें ना-पाक हैं- राजनाथ, पाकिस्तान को कड़क जवाब

कश्मीर के हालात पर मानसून सत्र के पहले दिन राज्य सभा में कश्मीर के हालात पर चर्चा हुई। चर्चा के बाद गृह मंत्री राजनाथ ने अपना बयान दिया। जिसमें उन्होंने कहा कि कश्मीर में हालात सामान्य बनाने के लिए जो भी कदम उठाए जाने जाहिए थे वो उठाए गए। मोदी जब अफ्रीकी देशों के दौरे पर थे तब खुद प्रधानमंत्री ने फोन कर मुझसे हालात की जानकारी मांगी थी। और जब वो विदेश दौरे से वापस आए तो उसके कुछ घंटों के बाद ही कश्मीर पर एक उच्चस्तरीय बैठक की।

बुरहान के बारे में उन्होंने कहा कि बुरहान हिजबुल का आतंकी था और अपने आकाओं के इशारे पर हमला करता था। कश्मीर में हिंसा की कुल 566 घटनाएं हुईं और 25 संपत्तियां आग के हवाले की गई। हिंसा में कुल 1948 नागरिक घायल हुए। हिंसा में 1 सुरक्षाकर्मी शहीद हुआ और 1671 सुरक्षाकर्मी घायल हुए।

राज्य सभा में गृह मंत्री राजनाथ सिंह का पूरा बयान

राजनाथ सिंह ने कहा कि मैने खुद अधिकारियों को ये निर्देश दिया था कि जितना कम से कम बल प्रयोग हो उतना कम बल प्रयोग किया जाए। गृह मंत्री ने पाकिस्तान को भी आड़े हाथों लिया। पाकिस्तान पर बोलते हुए राजनाथ सिंह ने कहा कि पाकिस्तान हमारे अंदरुनी मामलों में दखल देना बंद करे। गृह मंत्री ने कहा कि नाम तो पाकिस्तान है लेकिन हरकतें ना-

Loading...