कश्मीर समस्या पर केंद्र सरकार ने लिया बड़ा फैसला, दिनेश्वर शर्मा केंद्र सरकार के प्रतिनिधि होंगे

कश्मीर समस्या पर केंद्र सरकार ने लिया बड़ा फैसला, दिनेश्वर शर्मा केंद्र सरकार के प्रतिनिधि होंगे

नई दिल्ली:  कश्मीर के विषम हालात का हल निकालने के लिए बड़ा फैसला लिया है। केंद्र में मोदी की सरकार बनने के बाद सरकार ने पहली बार ये फैसला लिया है। मोदी सरकार अब कश्मीर समस्या का हल निकालने के लिए सभी पक्षों से बात करेगी। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस कर इसकी जानकारी दी। केंद्र सरकार की तरफ से जिस फैसले का एलान आज हुआ है बताया जा रहा है कि इसकी पृष्ठभूमि 5 दिन पहले उसी वक्त तैयार हो गई थी जब गृह मंत्री राजनाथ सिंह और पीडिपी चीफ और जम्मू कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती की मुलाकात हुई थी।

सभी पक्षों से बातचीत में केंद्र सरकार की तरफ से प्रतिनिधित्व पूर्व आईबी प्रमुख दिनेश्वर शर्मा करेंगे। राजनाथ सिंह ने कहा दिनेश्वर शर्मा सभी पक्षों से बातचीत करेंगे। गृह मंत्री से जब ये पूछा गया कि क्या अलगाववादियों से भी बात की जाएगी। तो इसके जवाब में राजनाथ सिंह ने कहा इसपर फैसला दिनेश्वर शर्मा को करने का आधिकार है।

जम्मू कश्मीर की सीएम महबूबा मुफ्ती ने भी केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है। 18 अक्टूबर को सीएम महबूबा मुफ्ती गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मिलने दिल्ली पहुंची थीं। जिसमें घाटी की सुरक्षा को लेकर चर्चा की गई। यही वजह है कि ये सवाल भी किये जा रहे हैं कि बातचीत का जो एलान केंद्र सरकार ने सोमवार को किया क्या उसपर 18 अक्टूबर को ही मुहर लग गई थी?

दरअसल केंद्र सरकार की तरफ से घाटी में हालात को काबू में करने के लिए सेना को खुली छूट दी गई। जिसके बाद सेना ने 250 आतंकियों की लिस्ट भी तैयार। और उनके सफाये के लिए ऑपरेशन ऑल आउट शुरु किया। जिसके बाद घाटी में आतंकियों की कमर भी टूट गई। लेकिन हालात में सुनधार नहीं हुआ। हाल में चोटीकटवा के मामले पर कश्मीर में कई जगहों पर सुरक्षाबलों को लोगों ने निशाना बनाया।

Loading...

Leave a Reply