पीएम से गले मिलने और आंख मारने पर राहुल को स्पीकर सुमित्रा महाजन की नसीहत

नई दिल्ली:  लोकसभा में मोदी सरकार के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा हो रही थी। बारी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के बोलने की आई तो उन्होंने पीएम मोदी पर जोरदार हमला किया। लेकिन मोदी की नीतियों को लेकर गंभीर दिख रहे राहुल तब हल्के साबित हुए जब उन्होंने सदन में अपना भाषण खत्म करने के बाद सीधे पीएम मोदी के पास गए और उन्हें गले लगा लिया।

यही नहीं पीएम मोदी को गले लगाने के बाद जब राहुल गांधी अपनी जगह पर लौटे तो उन्होंने किसी को आंख मारी। देश की सबसे पुरानी पार्टी के अध्यक्ष की तरफ से की गई इन दोनों हरकत ने सदन की मर्यादा को भी ठेंस पहुंचाया है।

उस वक्त तो लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सदन की कार्यवाही आगे बढ़ा दी। लेकिन शाम के तकरीबन साढ़े चार बजे के करीब सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को नसीहत के अंदाज में सदन की मर्यादा याद दिला दी।

सुमित्रा महाजन ने कहा कि मैं भी एक मां हूं, मैं भी बच्चों को गले लगाती हूं। इसके मतलब ये नहीं कि यहां पर वो सब किया जाए। इस सदन की एक मर्यादा है। और जिनसे आप जाकर गले मिले वो देश के प्रधानमंत्री हैं। वो प्रधानमंत्री की कुर्सी पर बैठे हैं। वो नरेंद्र मोदी नहीं हैं। जिनसे आप जाकर गले मिल रहे हैं। पद की अपनी मर्यादा होती है। यही नहीं अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को कहा कि इसके बाद आपने जिस तरह से आंख चमकाया वैसा यहां करना ठीक नहीं है। सुमित्रा महाजन ने कहा मैंने कभी आपको एक दूसरे से मिलने से रोका, नहीं रोका ना। लेकिन यहां पर इस तरह से गले लगाना सही नहीं है।

Loading...