NRC पर बोले अमित शाह किसी भारतीय का नाम नहीं कटा, केवल बांग्लादेशी बाहर हुए

नई दिल्ली:  NRC पर देश का सियासी माहौल गरमाया हुआ है। विपक्षी पार्टियां खासकर टीएमसी और कांग्रेस इस मुद्दे को लेकर सरकार को घेर रही हैं। NRC पर सदन के भीतर और सदन के बाहर भी घमासान तेज है। राज्यसभा में अमित शाह बोलने के लिए खड़े हुए तो विपक्षी सांसदों ने उन्हें बोलने नहीं दिया। जिसके बाद सदन के बाहर प्रेस कांफ्रेंस कर उन्होंने अपनी बात कही।

अमित शाह ने कहा राहुल गांधी और ममता बनर्जी NRC के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं। पहले वो बांग्लादेशी घुसपैठियों पर अपना रुख साफ करें। मुझे बड़े दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि बीजेपी और बीजेडी के अलावे किसी भी पार्टी ने ये कहना उचित नहीं समझा कि हमारे देश में घुसपैठियों के लिए कोई जगह नहीं है।

शाह ने राहुल से पूछा घुसपैठियों को बढ़ावा देकर राहुल किस तरह से देश की सुरक्षा करेंगे। ममता बनर्जी गृह युद्ध की बात करती हैं। ये कहकर डर का माहौल पैदा किया जा रहा है। शाह ने कहा जब हम विपक्ष में थे तब भी हमारा स्पष्ट मानना था कि बांग्लादेशी घुसपैठियों का हमारे देश में कोई स्थान नहीं है और आज भी हमारा वही स्टैंड है।

NRC पर सवाल उठानेवालों पर शाह ने कहा ये बहस चल रही है कि 40 लाख भारतीयों को अवैध घोषित कर दिया गया। जबकि वास्तविकता ये है कि प्राथमिक जांच होने के बाद जो भारतीय नहीं हैं उनके नाम NRC से हटाए गए हैं। उन्होंने कहा विपक्षी दलों के द्वारा देश में बीजेपी की छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जा रहा है। शाह ने आगे कहा कि हलांकि 40 लाख का आंकड़ा कोई अंतिम आंकड़ा नहीं है। सुप्रीम कोर्ट के संरक्षण में पूरी जांच की जाएगी उसके बाद कोई फैसला लिया जाएगा।

(Visited 8 times, 1 visits today)
loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *