ओह ओ! ये क्या लेडीज टॉयलेट में घुस गए राहुल गांधी

नई दिल्ली:  राहुल गांधी तीन दिनों के गुजरात दौरे पर थे। अपने इस दौरे के दौरान राहुल ने मोदी सरकार के दावों की बखिया उधेड़ने की पूरी कोशिश की। अपने गुजरात दौरे के आखिरी दिन राहुल गांधी छोटा उदयपुर में जनसभा कर रहे थे। इस दौरान राहुल गांधी वहां आए लोगों से मिल रहे थे। इसी दौरान उन्हें प्रकृति का दबाव महसूस हुआ। जिसके बाद उन्होंने शौचालय जाने की इच्छा जताई।

लेकिन गुजराती नहीं आने की वजह से राहुल के सामने अजीब परिस्थिति खड़ी हो गई।  दरअसल राहुल गांधी को गुजराती नहीं आती थी। शायद इसी वजह से राहुल पुरुषों की जगह महिलाओं के टॉयलेज में पहुंच गए। जिसके बाद वहां मौजूद लोगों की भी हंसी छूट गई। ये घटना ज्यादा हास्यास्पद ना बने इसलिए उनकी सुरक्षा में तैनात एसपीजी ने वहां मौजूद लोगों को वहां से हटा दिया। लेकिन तबतक राहुल टॉयलेट से बाहर आते हुए कैमरे में कैद हो चुके थे।

राहुल जब महिला शौचालय से बाहर आ रहे थे तो वहां मौजूद लोगों की हंसी छूट गई। चुनावी दौरे के बीच में हुई ये वो घटना थी जिसे याद कर राहुल के चेहरे पर भी भविष्य में हंसी तैर जाएगी। दरअसल इसमें राहुल की कोई गलती नहीं थी। टॉयलेट के बाहर पेपर पर महिला लिखा था। लेकिन गुजराती नहीं आने की वजह से वो उसे समझ नहीं सके। और टॉयलेट के दरवाजे पर कोई चित्र नहीं बना था। जैसा कि अकसर किया जाता है। यही वजह रही कि राहुल महिला टॉयलेट में चले गए।

महिला टॉयलेट में जाने से पहले राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकार हमला बोला था। उन्होंने कहा था मोदी जी को ये एहसास हुआ कि नोटबंदी से आम लोग और छोटे व्यापारी पूरी तरह से बर्बाद नहीं हुए हैं। इसलिए उन्होंने जीएसटी लाने का फैसला किया। उन्होंने कहा जब मोदी जी यहां के मुख्यमंत्री थे तब भाजपा सरकार ने लोगों की मूलभूत जरूरतों जैसे स्वास्थ्य एवं शिक्षा की कीमत पर राज्य का बहुमूल्य धन एवं संसाधन उद्योगपतियों पर खर्च कर दिया। यही गुजरात मॉडल है। यही अच्छे दिन हैं… लेकिन सिर्फ मोदीजी और शाहजी के लिए। बाकी देश के लिए नहीं।

Loading...