सर्जिकल स्ट्राइक पर राहुल ने PM मोदी पर ‘खून की दलाली’ का लगाया आरोप

rahul-tweet-khoonदिल्ली: 28 सितंबर की रात भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से पकिस्तान बौखलाया हुआ है। लेकिन खलबली भारत के भीतर भी कम नहीं है। यहां खलबली मची है सियासी दलों के भीतर। उसी दूषित रानजीतिक सोच का नतीजा है कि कभी सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगे जा रहे हैं, कभी कहा जा रहा है जो अब हुआ वो पहले भी हो चुका है तो कोई कह रहा है सर्जिकल स्ट्राइक जैसा कुछ हुआ ही नहीं है।

लेकिन कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी 26 दिनों की किसान यात्रा कर जब दिल्ली वापस लौटे तो उन्होंने पहले वाले सारे बयानों को पीछे छोड़ दिया। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने सर्जिकल स्ट्राइक बोलते हुए कहा ‘मोदी खून की दलाली’ कर रहे हैं। राहुल के इस बयान के बाद जो कांग्रेस यूपी की किसान यात्रा की कामयाबी बताने की तैयारी कर रही थी उसे डैमेज कंट्रोल में जुटना पड़ा।

राहुल के बयान को दिल्ली के मुख्यमंत्री अविंद केजरीवाल ने भी अफसोसजनक बताया है। केजरीवाल ने कहा कि सैनिकों को लेकर इस तरह के बयान देना सही नहीं है। वहीं बीजेपी भी कांग्रेस पर हमलावर है। बीजेपी ने राहुल और कांग्रेस पर पलटवार करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी दलालों को हमेशा से बढ़ावा देती रही है। इसी का नतीजा है बोफोर्स, 2जी घोटाला, अगस्ता वेस्टलैंड जैसे घोटाले। इनसब सौदों में दलालों की चांदी रही। यही वजह है कि कांग्रेस को हर जगह दलाली दिखाई दे रही है।

ak-tweet
बयान जब विवाद बन गया और उसमें पूरी पार्टी घिरती दिखी तो राहुल गांधी ने सफाई वाला ट्वीट किया ‘हम सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन करते हैं लेकिन राजनीतिक पोस्टरों पर सर्जिकल स्ट्राइक के जिक्र के खिलाफ हैं।‘ लेकिन ये सफाई उतनी कारगर नहीं रही। क्योंकि तबतक आग पूरी तरह से फैल चुकी थी। और उसकी आंच कांग्रेस तक पहुंच रही थी।

Loading...

Leave a Reply