raheel-sharif-and-nawaz-sharif

पाकिस्तान में बोले नवाज शरीफ ‘आतंकियों पर कार्रवाई नहीं की तो कहीं के नहीं रहेंगे’

पाकिस्तान में बोले नवाज शरीफ ‘आतंकियों पर कार्रवाई नहीं की तो कहीं के नहीं रहेंगे’

दिल्ली: उरी हमले के बाद भारत ने जिस तरह से विश्व मंच पर अपनी कूटनीति दिखाई है उसके बाद अब पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के माथे पर भी शिकन उभर आई है। नवाज शरीफ को अब ये एहसास हो रहा है कि अगर अब भी कुछ नहीं किया तो दुनिया में कहीं के नहीं रहेंगे।

पाकिस्तान की इसी चिंता को लेकर एक अहम बैठक हुई। जिसमें पीएम नवाज शरीफ ने पाकिस्तानी सेना के प्रमुख राहिल शरीफ को ये संकेत दिये कि अगर इतने के बाद भी आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई तो देश की हालत और बुरी हो जाएगी। और दुनिया में अकेले रह जाएंगे।

पाकिस्तानी अखबार डॉन में छपी खबर के मुताबिक इसी मुद्दे को लेकर बैठक हुई जिसमें दो मुद्दों पर सहमति बनी। पहला ये कि आईएसआई के डीजी जनरल रिजवान अख्तर और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार नासिर जंजुआ सभी चार प्रांतों के प्रॉविनेंस एपेक्स कमेटियों और आईएसआई सेक्टर कमांडरों के लिए संदेश लेकर जाएंगे।

आईएसआई को ये संदेश दिया जाएगा कि अगर कानूनी एजेंसियां आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करेंगी तो सेना की इंटेलिजेंस एजेंसियां इसमें कोई दखल नहीं देंगी। जनरल अख्तर इसी संदेश को लेकर रवाना हुए हैं। उस बैठक में दूसरा फैसला ये लिया गया कि पठानकोट हमले की जांच पूरी करने के लिए दोबारा से कोशिश की जाएगी। और रावलपिंडी एंटी टेररिज्म कोर्ट से मुंबई हमले से जुड़े सभी ट्रायल को दोबारा शुरु किया जाएगा।

काफी बहस के बाद बैठक में ये दोनो फैसले लिये गए। बैठक में पंजाब प्रांत के मुख्यमंत्री शाहबाज शरीफ और आईएसआई के डीजी जनरल रिजवन अख्तर के बीच काफी तीखी बहस हुई। इन दोनों फैसलों के बाद ये साफ है कि पाकिस्तान को अलग थलग करने की भारत की कूटनीति अपना असर दिखा रही है। हलांकि पाकिस्तानी सरकार या आईएसआई की तरफ से इस तरह का कोई औपचारिक एलान नहीं किया गया है। लेकिन इतना तो तय है कि मियां नवाज की नींद जरुर हराम हो गई है।

Loading...

Leave a Reply